पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • घरेलू ज्वैलरी कारोबार 6,500 अरब रुपए तक पहुंचाने का लक्ष्य

घरेलू ज्वैलरी कारोबार 6,500 अरब रुपए तक पहुंचाने का लक्ष्य

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मुंबई | जैम्स एंड ज्वैलरी काउंसिल ने वर्ष 2025 तक देश में ज्वैलरी कारोबार को 100 अरब डॉलर (करीब 6,500 अरब रुपए) तक पहुंचाने का लक्ष्य तय किया है। वर्तमान में घरेलू ज्वैलरी कारोबार 75 अरब डॉलर यानी करीब 4,875 अरब रुपए का है। जैम्स एंड ज्वैलरी सम्मेलन के समापन समारोह में काउंसिल के चेयरमैन नितिन खंडेलवाल ने कहा कि हमने घरेलू ज्वैलरी कारोबार को करीब 6,500 अरब रुपए तक पहुंचाने के लिए विजन 2025 कार्यक्रम लॉन्च किया है। इसके तहत रोजगार के 20 लाख नए अवसर सृजित किए जाएंंगे। उनके मुताबिक बाजार धारणा बेहतर हो रही है। काउंसिल को आगामी वेडिंग सीजन के दौरान हीरा व प्लेन गोल्ड ज्वैलरी की मांग बढ़ने की उम्मीद है। काउंसिल का कहना है कि देश की जीडीपी में जैम्स एंड ज्वैलरी सेक्टर का योगदान करीब 7 फीसदी का है। इस क्षेत्र से करीब 46 लाख लोगों को रोजगार मिला हुआ है।

खबरें और भी हैं...