पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • कैंप से छूटे 5 हजार से ज्यादा को स्मार्ट कार्ड सीएमओ दफ्तर से

कैंप से छूटे 5 हजार से ज्यादा को स्मार्ट कार्ड सीएमओ दफ्तर से

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
राजधानी के अलग-अलग वार्डों में छूटे गए लोगों के स्मार्ट कार्ड बांटने के शिविर 10 अगस्त को खत्म हो जाएंगे। अभी तकरीबन 40 वार्डों में शिविर खत्म हो गए हैं। इस लिहाज से अफसरों का अनुमान है कि शहर में 5 हजार लोग फिर भी बचेंगे जिन्हें शिविरों से कार्ड नहीं मिल पाए। उनकी सुविधा के लिए स्वास्थ्य विभाग ने 10 तारीख के बाद सीएमओ दफ्तर में कार्ड बनाने की सुविधा दी है।

प्रदेश में 10 लाख छूटे हुए लोगों का स्मार्ट कार्ड बनाया जा रहा है। राजधानी में ही ऐसे लोगों की संख्या तकरीबन 50 हजार तथा जिले में सवा लाख है। ऐसे लोगों से पिछले साल दिसंबर तक फार्म लिए गए थे। उनके नाम फाइनल होने के बाद पिछले एक माह से अलग-अलग वार्डों में शिविर लगाकर कार्ड दिए जा रहे हैं, लेकिन कई तरह की तकनीकी दिक्कतों की वजह से तकरीबन 5 हजार लोगों के अब भी छूटने का अंदेशा है। हेल्थ अफसरों ने बताया कि ऐसे लोगों को कार्ड दिए जा सकें, उनके लिए सीएमओ कार्यालय में व्यवस्था की गई है। अधिकारियों ने बताया कि पुराने स्वास्थ्य संचालनालय के स्मार्ट कार्ड नोडल कार्यालय में एक कंप्यूटर व जरूरी सेट रखा गया है। यहां उन लोगों के कार्ड बन सकते हैं, जिनका दिल्ली से कोड आ गया है।





हालांकि जो लोग कार्ड के लिए फार्म ही जमा नहीं कर पाए हैं, वे शिविर स्थल पर ही फार्म जमा कर सकते हैं। शिविर बंद हुए तो वे सीएमओ कार्यालय में भी फार्म लिए जाएंगे। अब ये फार्म दिल्ली भेजे जाएंगे और वहां से कोड आने के बाद बचे हुए कार्ड भी मिलेंगे।

स्मार्ट कार्ड से ये सुविधा

स्मार्ट कार्ड में सालाना 50 हजार तक का इलाज फ्री करा सकते हैं। 15 अगस्त से 40 लाख बीपीएल परिवारों को मोदी केयर में पांच लाख तक सालाना फ्री इलाज मिलेगा। एपीएल परिवार के लिए एमएसबीवाय में 50 हजार की सुविधा मिलती रहेगी।

खबरें और भी हैं...