पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • बीकॉम, बीसीए, बीएससी से अच्छा बीए प्रथम का रिजल्ट, फिर भी आधे से ज्यादा छात्र फेल

बीकॉम, बीसीए, बीएससी से अच्छा बीए प्रथम का रिजल्ट, फिर भी आधे से ज्यादा छात्र फेल

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पं.रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय की वार्षिक परीक्षा में एक का फिर बीए प्रथम का रिजल्ट ग्रेजुएशन की अन्य कक्षाओं की तुलना में बेहतर रहा। बीकॉम, बीसीए व बीसीए प्रथम वर्ष की तुलना में इसकी परीक्षा में ज्यादा छात्र शामिल हुए और रिजल्ट भी इनसे अच्छा रहा। लेकिन फिर भी आधे से अधिक छात्र फेल हुए। ग्रेजुएशन प्रथम वर्ष में इस बार भी किसी कक्षा का रिजल्ट 50 फीसदी तक नहीं पहुंचा।

ग्रेजुएशन व पीजी दोनों कक्षाओं के नतीजे जारी करने में इस बार देरी हुई है। ग्रेजुएशन की कक्षाओं में बीए प्रथम वर्ष का रिजल्ट बचा था, वह मंगलवार की शाम को जारी किया गया। पिछली बार जुलाई में ग्रेजुएशन के सारे नतीजे आ गए थे। पिछले तीन बरसों के नतीजों पर गौर करें तो बीए प्रथम का रिजल्ट ही सबसे अच्छा रहा है। बीएससी में 37.12 और बीकॉम मे 34.53 फीसदी छात्र पास हुए। ग्रेजुएशन प्रथम वर्ष का रिजल्ट कमजोर होने की वजह से इस बार भी इन कक्षाओं में रीवैल के लिए ज्यादा आवेदन आने की संभावना है। अफसरों ने बताया कि रिजल्ट जारी होने के 15 दिनों के भीतर रीवैल व रीटोटलिंग के लिए आवेदन किया जा सकता है। कॉलेजों में अब जल्द ही बीए दूसरे व तीसरे वर्ष की कक्षाएं शुरू होगी।

बीए प्रथम वर्ष में इस बार 44 फीसदी पास हुए, तीन बरसों में ग्रेजुएशन में इसका रिजल्ट ही सबसे बेहतर

बीसीए का रिजल्ट 8.56 फीसदी तक बढ़ा

वार्षिक परीक्षा में बीसीए प्रथम के रिजल्ट में पिछली बार की तुलना में इस बार ज्यादा सुधार हुआ। रिजल्ट 8.56 फीसदी तक बढ़ा। पिछली बार 21.74 फीसदी छात्र पास हुए। इस बार यह आंकड़ा 30.30 तक पहुंचा। कॉलेज के अधिकारियों ने बताया कि बीसीए प्रथम का रिजल्ट भले ही इस बार 30.30 फीसदी रहा हो, लेकिन पिछले पांच-छह बरसों में यह रिजल्ट सबसे अच्छा है।

44 फीसदी रहा बीए प्रथम का रिजल्ट

बीए प्रथम वर्ष का रिजल्ट 44 फीसदी रहा। इस परीक्षा में कुल 33,639 छात्र शामिल हुए। इसमें से 14,748 पास हुए। 11,783 फेल हुए। 6839 को पूरक की पात्रता मिली। 274 के रिजल्ट रोके गए। जबकि 1138 अनुपस्थित रहे। पिछली बार की तुलना में इस बार का रिजल्ट करीब 2 फीसदी ज्यादा रहा।

तीन साल में कैसा रहा रिजल्ट का प्रतिशत

कक्षा 2016 2017 2018

बीए प्रथम 33.90 41.4 43.84

बीकॉम प्रथम 43.28 34.74 34.53

बीएससी प्रथम 29.23 35.83 37.12

बीसीए प्रथम 26.55 21.74 30.30

खबरें और भी हैं...