पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Hoshangabad
  • जुवाड़ी में नदी पर नहीं बना पुल, बारिश में होती है दिक्कत

जुवाड़ी में नदी पर नहीं बना पुल, बारिश में होती है दिक्कत

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जुवाड़ी गांव में पक्का मार्ग तक नहीं है। गांव की नदी पर पुल न होने से बारिश में गांव दो भागों में बंट जाता है। जान जोखिम में डालकर लोग नदी पार के घोड़ाडोंगरी व बैतूल जाते हैं। ऐसे में सिर्फ गांव के लोगों को ही नहीं, स्कूली बच्चों को भी परेशान होना पड़ता है। गांव के लोग जनप्रतिनिधियों के सामने हर बार मांग रखते हैं और हर बार एक ही जवाब मिलता है काम जल्द से जल्द पूरा करवाया जाएगा। जुवाड़ी घोड़ाडोंगरी ब्लाॅक के अंतर्गत आता है। इस गांव की आबादी 25 सौ है। 225 घर हैं। गांव में मुख्य सड़क से पहुंचा जा सकता है। जुवाड़ी गांव से आधा दर्जन गांवों में पहुंचने का रास्ता है, लेकिन यह रास्ते कच्चे हैं। बारिश के दिनों में लोगों को फेर लगाकर जाना पड़ता है।

परेशानी
25 सौ लोगाें की जनसंख्या वाले गांव के रहवासी बारिश में जान जोखिम में डालकर नदी करते हैं पार
बारिश में हाेती है दिक्कत
जुवाड़ी गांव के रेखचंद्र यादव, लखन यादव, विक्रांत मेहतो, पप्पू उइके, लाेकेश यादव, संजय उइके ने बताया जुवाड़ी नाले पर पुल नहीं बनने से दिक्कतें हाेती हैं। पुल नहीं हाेने से बच्चाें काे स्कूल जाने में भी दिक्कत हाेती है। इस पुल का जल्द निर्माण होना चाहिए।

पुल न होने से टापू बन जाते हैं आधा दर्जन गांव
जुवाड़ी के खोलई नाले पर पुल नहीं होने से खामढाना, गुवाड़ी, कोयलारी, छूरी, बीसलदेही, सीताकामथ सहित अन्य गांव टापू बन जाते हैं। यहां से आने-जाने का कोई रास्ता नहीं है। गांव के लोगों को बांस का पुल बनाकर जान जोखिम में डालकर आना-जाना पड़ता है। यह समस्या कई सालों से बनी हुई, लेकिन जनप्रतिनिधि पुल बनाने में कोई रुचि नहीं ले रहे। जबकि ग्राम पंचायत पुल का निर्माण करने की मांग को लेकर कई बार जनपद पंचायत में पत्राचार कर चुकी है। लेकिन अब तक केवल आश्वासन ही मिला।

अधिकारी से आयोग तक चली फाइल, हुआ कुछ नहीं
खोलई नाले पर पुल नहीं होने और स्कूली बच्चों के नदी से होते हुए स्कूल जाने का समाचार प्रकाशित करने पर अधिकारी से बाल संरक्षण आयोग ने जवाब-तलब किया था, किन्तु कोई पहल नहीं की। इस बारिश में स्कूली बच्चों को जान जोखिम में डालकर स्कूल जाना पड़ेगा।

जानकारी मिली है
जुवाड़ी के खोलई नाले पर पुल बनाने की प्रशासकीय स्वीकृति मिल चुकी है। आईपीडीपी योजना में बजट की कमी के कारण आठ माह से फाइल बैतूल में अटके होने की जानकारी मिली है। नितिन मेहतो, उपसरपंच, जुवाड़ी

खबरें और भी हैं...