पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ratlam
  • हर दो महीने में होना चाहिए नगर निगम का सम्मेलन, सालभर में दो ही हो पाए

हर दो महीने में होना चाहिए नगर निगम का सम्मेलन, सालभर में दो ही हो पाए

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
हर दो महीने में नगर निगम सम्मेलन होना चाहिए लेकिन एक साल में दो ही हुए हैं। इसमें भी एक मार्च 2017 का बजट सम्मेलन और दूसरा अक्टूबर 2017 का सम्मेलन, जो पार्षदों की मांग के बाद बुलाया था। इसके बाद से आज तक कोई सम्मेलन नहीं हुआ। इससे पार्षदों में आक्रोश है। इसमें सत्ता पक्ष के पार्षद भी शामिल है और उन्होंने सम्मेलन बुलाने की मांग तेज कर दी है।

इसके पहले निगम का सम्मेलन साढ़े पांच महीने पहले अक्टूबर में हुआ था। इसके बाद से अब तक एक भी सम्मेलन नहीं हो पाया है जबकि बजट पेश होना है। ऐसे में पार्षदों ने सम्मेलन बुलाने की मांग तेज कर दी है। सत्ता पक्ष के पार्षद अरुण राव ने सम्मेलन नहीं बुलाने पर निगम के जिम्मेदारों पर निगम अधिनियम की अवहेलना का आरोप लगाया है। उन्होंने बताया वर्ष 2018-19 के चालू वित्तीय वर्ष का बजट पास होना है लेकिन इसमें भी निगम की अरुचि है। इसके पहले अक्टूबर में सम्मेलन हुआ था उसमें पार्षदों की नाराजी को देखते हुए हर दो से ढाई महीने में सम्मेलन आहूत करने का फैसला हुआ था। लेकिन साढ़े पांच महीने हो गए। कांग्रेस पार्षद नजमा इक्का बैलूत ने बताया पांच महीने पहले सम्मेलन हुआ था। इसके बाद आज तक नहीं हुआ। कई जरूरी काम अटके हैं। जनता तो हमें परेशान कर रही है। हम क्या जवाब दें।

एक दो दिन में तय होगी तारीख- नगर निगम अध्यक्ष अशोक पोरवाल ने बताया एजेंडा मिल गया है। एक-दो दिन में सम्मेलन की तारीख तय कर ली जाएगी।

इसलिए जरूरी है सम्मेलन
शहर में सीवरेज का काम शुरू हुआ था। इससे सड़कों का काम रोक दिया था। अब सीवरेज का काम रोक दिया है। सड़क कब से बनना है इस पर फैसला होना है।

अविकसित तथा अवैध कॉलोनियों से जुड़ी समस्याएं।

शहर के उद्यानों के विकास तथा उनके रखरखाव के लिए कारगर योजना

प्रधानमंत्री आवास योजना, लीज रेंट, निगम द्वारा विकसित कॉलोनियों के भूखंडों की रजिस्ट्रियां तथा नामांतरण से संबंधित प्रकरण।

खबरें और भी हैं...