• Hindi News
  • National
  • एम्स में रावतभाटा के कौशल जैन की 45वीं रैंक

एम्स में रावतभाटा के कौशल जैन की 45वीं रैंक

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
देश के नामी मेडिकल कॉलेज एम्स परीक्षा में परमाणु बिजलीघर अस्पताल के डॉ. कोमल जैन, शिल्पा जैन के पुत्र कौशल जैन ने 45वीं रेंक हासिल की है।

इस परीक्षा में 3.50 लाख स्टूडेंट्स शामिल हुए थे। वहीं राजस्थान परमाणु बिजलीघर के वैज्ञानिक अधिकारी एसपी जोशी, माता भारती जोशी के पुत्र मोक्षित जोशी ने 1555वीं रेंक हासिल की है।कौशल जैन ने इसके साथ ही जेएलएमईआर की ऑल इंडिया परीक्षा में भी 27 रेंक हासिल की है। वहीं किशोर वैज्ञानिक पुरस्कार में 13वीं रेंक हासिल की है। कौशल का कहना है कि एम्स जैसी परीक्षाएं पास करने के लिए रिलेक्स होकर परीक्षा देना जरूरी है। एनसीईआरटी की किताबों पर ज्यादा फोकस जरूरी है। अच्छी कोचिंग, कक्षा में जो पढ़ाया उस पर ध्यान देना जरूरी है। खासकर टीबी, मोबाइल का उपयोग जरूरी हो तो ही करना चाहिए। कौशल रोजाना कोचिंग के अलावा 4 घंटे नियमित पढ़ते हैं। पिता डॉ. कोमल जैन ने बताया कि कौशल बचपन से ही होनहार है।

उनका कहना है कि बच्चे में यह लगन खुद होनी चाहिए कि वह अपने आप पढ़ने लग जाए। दबाव से पढ़ाने से बच्चे नहीं पढ़ते। जब बच्चा अपने आप पढ़ने लगता है तो सफलता निश्चितरूप से मिलती है। कौशल का नीट में भी चयन हुआ है, लेकिन वह एम्स ही ज्वॉइन करेगा। मोक्षित का भी नीट में चयन हुआ है।

कौशल के पिता परमाणु बिजलीघर अस्पताल में डॉक्टर, यहीं के मोक्षित की 1555वीं रैंक
रावतभाटा। मां के साथ कौशल जैन। मोक्षित जोशी।

खबरें और भी हैं...