पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • जर्जर भवन और टपकती छत में पढ़ने को मजबूर हैं बच्चे

जर्जर भवन और टपकती छत में पढ़ने को मजबूर हैं बच्चे

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शहर के गोरधनपुरा में स्थित राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूल में बच्चे डर के बीच पढ़ने को मजबूर है। स्कूल की जर्जर हालत के कारण विद्यार्थियों के साथ शिक्षकों को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही हादसे का अंदेशा बना रहता है। नगरपालिका क्षेत्र में शामिल गोरधनपुरा के राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूल में कक्षा एक से आठवीं तक कुल 121 बच्चे अध्ययनरत हैं। स्कूल की लंबे समय से मरम्मत नहीं हुई है। ऐसे में स्कूल की छत जर्जर हो चुकी है।

हालत यह है कि पहले तो बारिश में स्कूल की छत टपकती थी। इसके बाद भी मरम्मत नहीं होने से अब जगह-जगह से छत का प्लास्टर गिरने लगा है। सोमवार को भी स्कूल के छज्जे का प्लास्टर टूटकर गिर गया। गनीमत यह रही कि इस दौरान वहां कोई बच्चा नहीं होने से हादसा टल गया। स्कूल के शिक्षकों ने बताया कि छत इतनी जर्जर हो चुकी है कि कई जगह प्लास्टर गिरने के साथ ही सरिए नजर आने लगे हैं। यह सरिए भी जंग लगने से अधिकांश स्थानों पर खराब हो चुके हैं। इससे भी हादसे की आशंका बढ़ गई है।

अनदेखी

गोरधनपुरा स्कूल का मामला, बना रहता है हादसे का अंदेशा, जिम्मेदारों का नहीं है ध्यान, ग्रामीणों में नाराजगी

रामगंजमंडी। गोरधनपुरा के उच्च प्राथमिक स्कूल की जर्जर छत।

छत से गिर सकता है सीमेंट

जब भी बारिश होती है तो स्कूल की छत टपकने लग जाती है। ऐसे में बच्चों के बैठने के लिए जगह भी नहीं बचती। कई बार यहां के निवासी भी इसको लेकर रोष जता चुके हैं। स्कूल की मरम्मत नहीं होने से बच्चों के सिर पर खतरा मंडराता रहता है। कभी भी छत से सीमेंट गिर सकता है। ऐसे में शिक्षकों को पढ़ाते समय सावधानी रखनी होती है। गोरधनपुरा के राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूल में तीन मतदान केंद्र भी है। इनमें ही गोरधनपुरा के निवासी मतदान करने आते हैं। ऐसे में मतदान केंद्र भी जर्जर हो रहा है। गोरधनपुरा के निवासियों का कहना है कि स्कूल की मरम्मत करवाई जाए। मरम्मत नहीं होने से परिजनों की भी चिंता बनी रहती है।

क्षेत्र में जर्जर स्कूलों की सूची तैयार करने के अधिकारियों को निर्देश दे रखे हैं। यह सूची तैयार होने के बाद जर्जर स्कूलों की मरम्मत के लिए योजना बनाकर कार्य करवाया जाएगा। -चंद्रकांता मेघवाल, विधायक, रामगंजमंडी

खबरें और भी हैं...