पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • बच्चों की तरह पक्षियों की सेवा करने का लिया संकल्प

बच्चों की तरह पक्षियों की सेवा करने का लिया संकल्प

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पक्षियों के बिना जीवन अधूरा है। इसके लिए सबसे बेहतर है कि शहर के प्रमुख पार्कों, कार्यालयों और घरों के बाहर पक्षियों के लिए एक चबूतरा बनाएं। जहां उनके लिए सकोरों में रोजाना दाना-पानी डालते रहे। यह कहना है महम के बीकेएन पब्लिक स्कूल के चेयरमैन सतीश राठी का। वह दैनिक भास्कर और ओएनजीसी के आइए बनें पंछियों का सहारा अभियान के तहत हुए कार्यक्रम में बोल रहे थे। वहीं ओमेक्स सिटी में भी लोगों को सकोरे बांटे गए। इस दौरान लोगों ने संकल्प लिया कि अब वे भी अपने बच्चों की तरह पंछियों की सेवा करेंगे। दूसरी ओर शनिवार को स्कूल में हुए कार्यक्रम के दौरान करीब 50 विद्यार्थियों को सकोरे दिए गए। इस दौरान शिखा, पूजा दांगी, सुमन, नरेंद्र हुड्‌डा, श्रीकांत, पूनम खुराना के साथ विद्यार्थियों ने भी पक्षियों को दाना-पानी देने की शपथ ली।

रोहतक. दैनिक भास्कर और ओएनजीसी के आइए बनें पंछियों का सहारा अभियान के तहत महम में विद्यार्थियों को संकोरे बटांते हुए।

ओमेक्स सिटी में 40 सकोरे बांटे
इस अभियान की कड़ी में ओमेक्स सिटी में 40 सकोरे बांटे गए। शाम 6 बजे हुए कार्यक्रम में लोगों में जबरदस्त उत्साह दिखाई दिया। लोगों ने संकल्प लिया कि अब वे भी अपने बच्चों की तरह पंछियों की सेवा करेंगे। घर में दाना-पानी रखेंगे और रोजाना डालेंगे। उन्होंने कहा कि पेड़ों पर सकोरे ज्यादा से ज्यादा टांगेंगे। पक्षी जब यहां आएंगे तो उन्हें न केवल दाना-पानी मिलेगा, बल्कि वह इनके आसपास आशियाना भी बनाएंगे। इस अवसर पर एडवाेकेट निखिल मनचंदा, संजीव सचदेवा, अमित पूनिया, अनिल अग्रवाल, मनीषा छाबड़ा, गौतम नांदल, सुरेंद्र मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...