पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • महका पिपरिया में 5 करोड़ से बनेगा पुल, बिना नाव दूसरी पार पढ़ने जा सकेंगे बच्चे

महका पिपरिया में 5 करोड़ से बनेगा पुल, बिना नाव दूसरी पार पढ़ने जा सकेंगे बच्चे

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
केसली विकासखंड के गांव महका पिपरिया और देवरी विकासखंड के सर्रा खुर्द, पड़रई एवं नयाखेड़ा के बच्चों को पढ़ाई के लिए अब नाव के सहारे नदी पार जाने की समस्या जल्दी ही खत्म होने वाली है। यहां से गुजरने वाली सुनार नदी जो इन गांवों के बच्चों की पढ़ाई में मुसीबत साबित होती थी, उस पर करीब 10 करोड़ रुपए की लागत से पुल बनाया जाएगा।

इसके लिए राज्य शासन ने आदेश भी जारी कर दिए हैं। भास्कर ने वर्ष 2015 में यहां की समस्या को प्रमुखता के साथ उठाया था। उसके पहले यहां के लोग लगातार परेशान होते रहे, लेकिन किसी ने भी ध्यान नहीं दिया था। अब जाकर क्षेत्रीय विधायक हर्ष यादव की मांग पर सरकार ने दो पुल निर्माण के लिए 10 करोड़ रुपए की स्वीकृति दी है। अपनी जान तक दांव पर लगाकर नाव के सहारे स्कूल जाने मजबूर होने वाले बच्चों के साथ ही आसपास के हजारों लोगों को पुल बनने से राहत मिलेगी। गौरतलब है कि बांध बनने के बाद सुनार नदी में साल भर लबालब पानी भरा रहता है। इसके कारण अपनी जरूरतों के अन्यत्र पहुंचने के ग्रामीणों को कठनाईयों का सामना

करना पड़ता था। सबसे ज्यादा समस्या बच्चों को पढ़ाई के लिए होती थी। इसके लिए शासन ने महका पिपरिया में सुनार नदी पर पुल निर्माण के लिए 443.49 लाख एवं गंगवारा पंचायत के ग्राम सर्राखुर्द, पड़रई एवं नयाखेड़ा के ग्रामीणों की समस्या के निदान के लिए 595.10 लाख रुपए लागत से पुल का निर्माण की स्वीकृति दी है।

खबरें और भी हैं...