पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • रिजल्ट आने से पहले 11वीं में दे रहे हैं प्रोविजनल प्रवेश

रिजल्ट आने से पहले 11वीं में दे रहे हैं प्रोविजनल प्रवेश

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जिले के सभी हायर सेकंडरी स्कूलों में इस बार दसवीं परीक्षा देने के बार रिजल्ट का इंतजार कर रहे विद्यार्थियों को प्रवेश दिया जा रहा है। विद्यार्थियों को प्रोविजनल प्रवेश देने की यह प्रक्रिया जिले में शुरू भी हो गई है। ऐसा पहली बार हो रहा जब 10वीं बोर्ड की परीक्षा में पास होने से पहले विद्यार्थी अपने पसंदीदा सब्जेक्ट के साथ कक्षा 11वीं में बैठ सकेंगे। अगर विद्यार्थी फेल होता है तो उसे बाद में पिछली कक्षा में रिवर्स कर दिया जाएगा। सरकार ने कक्षा दसवीं के सभी विद्यार्थियों को प्रोविजनल प्रवेश देने का फैसला, फरवरी में हुई प्री-बोर्ड परीक्षा के आधार पर लिया है। इसके तहत जिले के 18 हजार से ज्यादा विद्यार्थियों को कक्षा 11वीं में प्रवेश दिलाया जाएगा। सरकार ने पहली से 12वीं तक की सभी शालाओं में 15 अप्रैल के पूर्व प्रवेश प्रक्रिया पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं।

इस साल अप्रैल में शुरू हुआ सत्र : शैक्षणिक व्यवस्था में सुधार के लिए इस बार सरकार ने निजी विद्यालयों की तर्ज पर अप्रैल के पहले सप्ताह से स्कूल खोलने का निर्णय भी लिया है। इसके पीछे सरकार की सोच है कि जून व जुलाई महीना में प्रवेश के कारण पढ़ाई प्रभावित नहीं हो पाएगी। अब तक सरकार हर साल 16 जून से नया शैक्षणिक सत्र शुरू करती थी।

1 मई से ग्रीष्मकालीन अवकाश

इस बार शिक्षण संस्थाओं में ग्रीष्मकालीन अवकाश 1 मई से शुरू होगा। जो कि हर बार की तरह 15 जून तक चलेगा। ग्रीष्मकालीन अवकाश के बाद यानि 16 जून से स्कूलों में पढ़ाई शुरू हो जाएगी।

नया फरमान
हायर सेकंडरी स्कूलों में शुरू हुई नए निर्देशों के मुताबिक विद्यार्थियों को पसंदीदा संकाय में प्रवेश देने की प्रक्रिया
पुरानी किताबों से शुरू की मिडिल तक की पढ़ाई
नए सत्र की शुरूआत जल्द किए जाने का वजह से इस बार पाठ्य पुस्तकें भी समय से नहीं मिल सकीं। इसके चलते फिलहाल स्कूलों में कक्षा एक से आठवीं तक पढ़ाई छात्रों की पुरानी किताबों से ही कराई जा रही है। शेष रहे बच्चों को बाद में डिमांड के आधार पर आने वाली किताबें बांटी जाएंगी।

प्री-बोर्ड के आधार पर देंगे प्रवेश, टेस्ट भी लेंगे
बीईओ और उत्कृष्ट स्कूल के प्राचार्य रविंद्र कुमार बांगरे ने बताया कि इस बार 10वीं से 11वीं कक्षा में प्रवेश, रिजल्ट आने के पूर्व ही दिए जा रहे हैं। हम प्री बोर्ड परीक्षाओं के आधार पर विद्यार्थियों को यह प्रोविजनल प्रवेश देंगे। 11वीं में प्रवेश लेने वाले इन विद्यार्थियों का एप्टीट्यूट टेस्ट भी लिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...