पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • राज्य में पहली बार संकर बाजरा के बीज का उत्पादन

राज्य में पहली बार संकर बाजरा के बीज का उत्पादन

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पॉलिटिकल रिपोर्टर. जयपुर। राज्य में पहली बार संकर बाजरा के बीज के उत्पादन का प्रयोग सफल रहा है। जायद के दौरान टोंक जिले में बीसलपुर के जलभराव क्षेत्र में आने वाले 5 गांवों के 500 हैक्टेयर में की गई इस बुवाई से 3500 क्विंटल संकर बीज का उत्पादन लिया गया है। यह बीज किसानों को उनके खेतों में लगने वाले फसल प्रदर्शन के लिए राजस्थान राज्य बीज निगम की ओर से निशुल्क उपलब्ध कराया जाएगा।

कृषि मंत्री डॉ. प्रभु लाल सैनी ने बताया कि बीसलपुर बांध क्षेत्र में आने वाले पांच गांवों भगवानपुरा, रामसिंहपुरा, नासिरदा, रतनपुरा और रघुनाथपुरा के पांच सौ हैक्टेयर में संकर बाजरा की बीज के लिए बुवाई की गई। इससे पांच क्विंटल बाजरा बीज की उपज होने की संभावना है। इसके लिए एमपीएसएच-17 नामक बीज का इस्तेमाल किया गया है। इससे तैयार उपजे संकर बाजरा को अब खेतों में प्रदर्शन लगाने वाले किसानों को निशुल्क वितरण किया जाएगा। फिर ये किसान अन्य किसानों को बीज उपलब्ध कराएंगे। इससे बीज के मामले में राज्य का किसान आत्मनिर्भर हो सकेगा। उन्होंने बताया कि जोधपुर कृषि विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने संकर बाजरा के इस बीज को तैयार किया है। डॉ. सैनी ने बताया कि राज्य के किसान आमतौर पर आंध्र प्रदेश और गुजरात से आने बाजरा के बीजों पर निर्भर हैं और इसी के चलते निजी क्षेत्र की कंपनियां मुनाफा कमाने में लगी है, गुणवत्ता पर ध्यान नहीं है।

दूसरा, इन बीजों के भाव भी सामान्य से दस गुना तक होते हैं। अब राज्य में बीज उत्पादन शुरू होने के बाद अगले दो तीन साल में सामान्य किसानों को अपने खेतों में उत्पादन के लिए ये बीज उपलब्ध हो सकेंगे। उन्होंने अधिकारियों से खरीद के बजाय उत्पादन पर फोकस करने के निर्देश दिए। अभी राष्ट्रीय बीज निगम और राजस्थान स्टेट सीड्स कॉर्पोरेशन प्रदेश की जरूरतों का 25 फीसदी बाजरा के बीज उपलब्ध करवा पा रहे है। 60 हजार क्विंटल बीज निजी कंपनियों की ओर से सप्लाई किया जाता है। 2017 की खरीफ में प्रदेश में 42 लाख हैक्टेयर क्षेत्र में बाजरा बोया गया था, जो देश सर्वाधिक है। राजस्थान बाजरा उत्पादन और उपभोग दोनों में ही अव्वल है।

फसल प्रदर्शन के किसानों को मिलेगा मुफ्त
खबरें और भी हैं...