पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • समर्थन मूल्य पर अब तक खरीदी शुरू नहीं सस्ते दामों पर गेहूं बेचने को मजबूर किसान

समर्थन मूल्य पर अब तक खरीदी शुरू नहीं सस्ते दामों पर गेहूं बेचने को मजबूर किसान

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मंडी में गेहूं बेचने आए किसान।

19 हजार 372 किसानों ने कराए है पंजीयन
जिलेभर में बने 37 खरीद केन्द्रों पर सरकार द्वारा समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी की जानी है, जिसके तहत जिले के 19 हजार 372 किसानों ने गेहूं बेचने के लिए ऑनलाइन पंजीयन कराए है। पंजीयन के माध्यम से ही खरीदी शुरू होने के साथ किसानों को मैसेज कर गेहूं बेचने के लिए बुलाया जाएगा। इसी तरह भावांतर योजना की भी शुरूआत अब तक नहीं की गई। जिसमें 13 हजार किसानों ने पंजीयन कराए है, वह भी अपनी चना सहित अन्य फसलों को बेचने के लिए इंतजार में बैठे हुए है।

सहालग की तैयारी में जुटे किसान, इसलिए परेशान
वर्तमान में अप्रैल माह से शादी-विवाह की शुरूआत होने वाली है आगामी 18 अप्रैल को जिले के विभिन्न गांवों में सम्मेलन व शादी-विवाह बड़ी संख्या में होंगे। ऐसे में किसानों को वर्तमान में पैसों की सख्त जरूरत है, शादी की खरीदारी के लिए किसानों को पैसों की जरूरत है। नतीजा मजबूरी में किसानों को मंडी में सस्ते दामों पर गेहूं बेचना पड़ रहा है। इसके अलावा किसानों को बैंक और साहूकारों का भी कर्ज समय पर अदा करना है, ताकि वह ब्याज की चपेट में न आए। इसी तरह बिजली बिल भुगतान को लेकर भी किसान परेशान बने हुए है। जिस कारण किसानों को मंडी में सस्ते दामों पर गेहूं बेचने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।

खबरें और भी हैं...