पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • गीला और सूखा कचरा अलग डालने के लिए मुनादी करवा रही नपा, डस्टबिन बांटे ही नहीं

गीला और सूखा कचरा अलग डालने के लिए मुनादी करवा रही नपा, डस्टबिन बांटे ही नहीं

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शहर के वार्ड 13 में कचरा नहीं उठने पर आक्रोश जताते वार्डवासी।

सर्वेक्षण में बड़ौदा से भी बहुत पीछे रह गई नपा
जनवरी 2018 से नगरीय निकायों में स्वच्छता सर्वेक्षण अभियान की शुरुआत हुई है। पिछले माह इंदौर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मुख्य आतिथ्य में आयोजित कार्यक्रम में स्वच्छता सर्वेक्षण के नतीजे घोषित किए गए। जिसमें श्योपुर नगरपालिका देश में 528वें नंबर पर रही है। जबकि श्योपुर शहर को बहुत पीछे छोड़कर नगर परिषद बड़ौदा 171वें नंबर पर रही। स्वच्छता की रैंकिंग के मामले में बड़ौदा को ग्वालियर-चंबल संभाग में डबरा के बाद दूसरा स्थान मिला।

स्वच्छता की रैंकिंग सुधारने के लिए यह हों उपाय
शहर में जरूरत के अनुसार डस्टबिन एवं कचरा पात्र रखे जाए।

डस्टबिन का उपयोग नहीं करने वाले दुकानदारों पर सख्ती बरती जाए।

खाली प्लाटों और यहां-वहां खुले में कचरा फेंकने वाले लोगों पर जुर्माने की कार्रवाई हो।

सार्वजनिक स्थानों और व्यावसायिक परिसरों में दिन और रात में अतिरिक्त सफाई कराई जाए।

डस्टबिन खरीदने के लिए 7 लाख के टेंडर जारी किए
स्वच्छता सर्वेक्षण की रैंकिंग सुधारने और शहर को स्वच्छ बनाने की दिशा में निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। जल्द ही शहरवासियों को डस्टबिन बांटे जाएंगे। डस्टबिन खरीदने के लिए 7 लाख रुपए के टेंडर जारी कर दिए हैं। ताराचंद धूलिया, सीएमओ, नपा श्योपुर

खबरें और भी हैं...