पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • गंधर्वपुरी में बगैर परमिशन बोर करने पर एफआईआर दर्ज

गंधर्वपुरी में बगैर परमिशन बोर करने पर एफआईआर दर्ज

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जिले के जल अभावग्रस्त घोषित होने व रोशन हादसे के बाद से बगैर परमिशन व अधिकृत सूचना के बोरिंग पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। इसकी पहली कार्रवाई सोनकच्छ एसडीएम के आदेश के बाद गंधर्वपुरी में की गई है। यहां बगैर परमिशन के बोर करने पर मशीन जब्त की गई। मामले में मशीन के मालिक प्रवीण गुप्ता सोनकच्छ के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

एसडीएम नीरज खरे के आदेश के बाद आरआई महेंद्र कुमार परते व एएसआई रमेश पचलानिया आदि के साथ ग्राम गंधर्वपुरी पहुंचे। अवैध रूप से बोरिंग करने का कार्य किया जा रहा था जिसे अधिकारियों द्वारा पंचनामा बनाते हुए सोनकच्छ थाने पर पुलिस अभिरक्षा में खड़ा कराया गया है। एसडीएम नीरज खरे ने बताया गुरुवार की रात को सूचना प्राप्त हुई थी कि ग्राम गंधर्वपुरी में बोर हो रहा है। इसके बाद मौके पर आरआई व पुलिस बल को जब्ती के लिए भेजा गया था। मामले का केस बनाया दिया गया है जिसे कलेक्टर के पास भेजा जाएगा।

राजसात हो सकती है मशीन : कलेक्टर आशीषसिंह ने देवास में बोरिंग खनन करने पर धारा 144 लगा रखी है। पूर्व से ही जिले को जल अभावग्रस्त घोषित किया हुआ था। बोरिंग मशीन भी राजसात की जा सकती है।

खबरें और भी हैं...