• Hindi News
  • National
  • रसोई गैस और बिजली की आग पानी से नहीं बुझती, घर में अग्निशमन यंत्र जरूरी

रसोई गैस और बिजली की आग पानी से नहीं बुझती, घर में अग्निशमन यंत्र जरूरी

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर संवाददाता|श्रीगंगानगर

घरों में आम तौर पर रसोई गैस एवं बिजली की तारों में होने वाली स्पार्किंग से आग लगती है। इस तरह की आग पानी से नहीं बुझती है, इसलिए घर में हमेशा अग्निशमन यंत्र रखना चाहिए। यह बात सोमवार को दैनिक भास्कर एवं श्री आत्म वल्लभ जैन गर्ल्स कॉलेज के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित ‘लर्न टू लीड मेरी बेटी मेरा गौरव...एक नई पहल’ समर कैंप में नागरिक सुरक्षा के चीफ वार्डन निर्मल जैन ने छात्राओं को दी। उन्होंने बताया कि अग्निशमन यंत्र के माध्यम से इस तरह की आग पर सिर्फ 15-20 सेकंड में ही काबू पाया जा सकता है, जबकि पानी से यह आग नहीं बुझती है। इसलिए घर में किचन के बाहर अग्निशमन यंत्र जरूर होना चाहिए। इसके अलावा अगर कभी रसोई में काम करते हुए आग लग जाती है तो पहले खुद के ऊपर लगी आग बुझानी चाहिए, इसका सबसे अच्छा तरीका यह है कि जमीन पर लेटकर गुलाटी खाएं। इसके बाद घर की आग बुझानी चाहिए।

‘लर्न टू लीड मेरी बेटी मेरा गौरव...एक नई पहल’ समर कैंप में बेटियों ने जाने आग से बचाव के तरीके
कार जीप में भी अग्निशमन से बचाव के उपाय बताए

स्कूल वैन, लग्जरी बसें, कार, जीप या इस तरह के किसी भी वाहन में अग्निशमन यंत्र जरूरी होता है। क्योंकि इसमें लगने वाली आग भी डीजल या पेट्रोल के कारण ही होती है। यह या तो मिट्टी से बुझती है और या फिर अग्निशमन यंत्र से। पानी से इस पर काबू नहीं पाया जा सकता है, इसलिए वाहनों में यह यंत्र जरूर होने चाहिए और चालू हालत में होने चाहिए। ऐसा न होने पर डीटीओ वाहनों का चालान भी कर सकता है।
घर में आग लगी है तो घुटने के बल बाहर आएं, खतरा कम हाे जाएगा

जैन ने छात्राओं को बताया कि अगर घर में आग लग गई है तो खड़े होकर भागने के बजाय घुटने के बल बाहर आना चाहिए। क्योंकि आग के दौरान घर में धुआं भर जाता है और खड़े होकर चलने से बेहोश होने का खतरा रहता है। अगर किसी दुकान के ऊपर मकान है तो हमेशा घर में आने जाने का रास्ता अलग होना चाहिए।

विशेषज्ञों ने छात्राओं को फैशन डिजाइनिंग की दी जानकारी

लर्निंग क्लास के दौरान छात्राओं को फैशन डिजाइनिंग की जानकारी दी गई। इसमें उन्होंने एक्सपर्ट शिक्षकों से आधुनिक फैशन डिजाइनिंग की जानकारी दी। छात्राओं को बताया गया कि वर्तमान में इस क्षेत्र में प्रशिक्षण लेकर अच्छा रोजगार हासिल किया जा सकता है। वहीं, कुकिंग क्लास में छात्राओं को विभिन्न राजस्थानी व्यंजन बनाने का तरीका बताया गया।
खबरें और भी हैं...