पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • शुगर मिल ठेके पर देने के प्रयास नाकाम

शुगर मिल ठेके पर देने के प्रयास नाकाम

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
तय अवधि तक किसी कंपनी ने पिराई कार्य लेने के लिए नहीं भरे थे टेंडर

श्रीगंगानगर| दो वर्ष से लगातार ठेके पर चल रही शुगर मिल का संबंधित कंपनी ग्लोबल केन कंपनी लिमिटेड से ठेका समाप्त हो गया है। अगले सत्र में पिराई के लिए मिल प्रबंधन शुगर मिल को ठेके पर देना चाहती है, लेकिन तय अवधि 5 जुलाई तक किसी कंपनी ने शुगर मिल का पिराई कार्य लेने के लिए टेंडर नहीं भरे। टेंडर नहीं मिलने के कारण मिल ने टेंडर भरने की अंतिम तिथि अब 20 जुलाई कर दी है। ज्ञात रहे कि राज्य सरकार ने गन्ना पिराई सत्र 2015-16 एवं 2017-18 का कार्य ग्लोबल केन कंपनी को दिया था। पिराई कार्य ठेके पर देने के बाद मिल को चलाने में कोई विशेष परेशानी नहीं आई, लेकिन शुगर मिल कर्मचारी आैर किसान इस व्यवस्था का विरोध कर रहे थे।वर्ष 2014-15 में जब मिल कमीनपुरा शिफ्ट हुई तो इसका संचालन निर्माता कंपनी के पास था। पूरे सत्र में पिराई नियमित नहीं होने के कारण सरकार को किसानों का गन्ना बेचने के लिए पंजाब की फैक्ट्रियों में भेजना पड़ा। अब संबंधित कंपनी का ठेका अवधि समाप्त होने पर सरकार ने अगले दो वर्ष तक संचालन के लिए टेंडर जारी किए थे। उप महाप्रबंधक डीएस कौशिक ने बताया कि टेंडर भरने की अंतिम तिथि 5 जुलाई रखी गई, लेकिन तय अवधि तक किसी ने टेंडर नहीं भरा।

खबरें और भी हैं...