पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • अब रुपयों की तरह एटीएम से निकलेगा राशन का गेहूं

अब रुपयों की तरह एटीएम से निकलेगा राशन का गेहूं

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर संवाददाता| श्रीगंगानगर

रुपयों की तरह अब एटीएम से राशन का गेहूं भी निकलेगा। यानी उपभोक्ता अब मास्टर कार्ड इन्सर्ट कर इस आर- एटीएम से राशन का गेहूं जब चाहे प्राप्त कर सकेगा। आर-एटीएम से राशन का गेहूं निकलते ही संबंधित उपभोक्ता के मोबाइल फोन पर तुरंत यह मैसेज भी मिलेगा कि उनके खाते से कितना गेहूं निकाला गया है। प्रदेश में इस तरह की पहली मशीन नागौर जिले में लगाई जा रही है। जहां रिसर्च एवं डिवेलपमेंट का काम कर राशन एटीएम की इस मशीन का निर्माण कार्य तेजी से किया जा रहा है। खाद्य सुरक्षा योजना के लाभार्थियों को गेहूं वितरण के लिए इस पायलट प्रोजेक्ट के सफल रहने पर प्रदेश के अन्य जिलों में भी लागू कर दिया जाएगा। आर-एटीएम का उद्घाटन सीएम से अप्रैल अंत में करने का कार्यक्रम है।

अपनी भाषा में मिलेगा मैसेज कि कितना गेहूं निकला व बचा

आर-एटीएम मशीन की प्रोग्रामिंग इस तरह होगी कि ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को उनकी भाषा में सूचना मिलेगी। इसके लिए तकनीक से स्थानीय भाषा में प्रोग्रामिंग की जाएगी। ताकि राशन लेते समय उपभोक्ता आसानी से समझ सके कि उसे क्या करना है। इसके साथ ही यह बताएगा कि गेहूं कितना निकला व उपभोक्ता के खाते में कितना गेहूं बचा हुआ है। इस नई व्यवस्था से अनपढ़ और गरीब लोगों के साथ उनके हिस्से के राशन की कालाबाजारी रुकेगी। उल्लेखनीय है कि राज्य में राशन घोटाले रोकने को कोशिशें हो रही हैं।

नया प्रोजेक्ट
प्रदेश का पहला आर-एटीएम इसी माह के अंत तक नागौर में शुरू होगा
एटीएम के ऊपर बनेगा सुरक्षित राशन भंडारण कक्ष
जानकारी के अनुसार राशन एटीएम ठीक वैसे ही काम करेगा, जैसे रुपए निकालने वाला एटीएम करता है। बस इसकी इंजीनियरिंग में थोड़ा फर्क होगा। शुरुआत में इसके जरिए सिर्फ गेहूं का ही वितरण किया जाएगा। इसकी सफलता के बाद अन्य उत्पाद इसमें शामिल किए जाएंगे। गेहूं के स्टोरेज के लिए कुछ अधिक स्थान की आवश्यकता होगी। इसके लिए पीडब्ल्यूडी अभियंताओं के सहयोग से मशीन के ऊपरी भाग में ऐसे सुरक्षित कक्ष का निर्माण किया जा रहा है, जहां गेहूं या अन्य राशन उत्पाद पर मौसम का कोई असर ना हो।

खबरें और भी हैं...