• Hindi News
  • National
  • निक्षय पोषण योजना से आकर्षित हो उपचार के लिए आ रहे टीबी रोगी

निक्षय पोषण योजना से आकर्षित हो उपचार के लिए आ रहे टीबी रोगी

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जबसे प्रदेश सरकार ने तपेदिक (टीबी) रोगियों के लिए निक्षय पोषण योजना शुरू की है। उसके बाद से ही तपेदिक रोगी उपचार के लिए नागरिक अस्पताल की ओर रूख करने लगे हैं। योजना के तहत मरीजों को खुराक के लिए 500 रुपये का प्रतिमाह इंसेंटिव दिया जा रहा है।

पोषण सहायता देने के लिए शुरू की योजना

सरकार द्वारा पुनरीक्षित राष्ट्रीय क्षय नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत क्षय रोगियों को इलाज के दौरान पोषण सहायता देने के लिए इंसेंटिव प्रदान करने की निक्षय पोषण योजना शुरू की गई है। जिसके तहत एक अप्रैल से इलाज कराने वाले नए मरीजों के लिए पोषण सहायता प्रदान करने के लिए पांच सौ रुपये का इंसेंटिव प्रतिमाह प्रदान किया जाएगा। जिन तपेदिक रोगियों का उपचार अप्रैल माह से पूर्व शुरू हुआ था और उसके उपचार में अभी एक या उससे अधिक माह का समय शेष है तो उसे भी प्रतिमाह 500 रुपये का भुगतान किया जाएगा। उक्त सहायता की धनराशि डीबीटी स्कीम के माध्यम से सीधे मरीजों (लाभार्थियों) के बैंक खातों में ट्रांसफर की जाएगी। इसके लिए रोगी को अपना आधार कार्ड व बैंक खाते की डिटेल संबंधित अस्पताल में देनी होगी। नागरिक अस्पताल के तपेदिक सुपरवाइजर बसंत ने बताया कि तपेदिक रोगियों में योजना के प्रति आकर्षण है। जिससे अप्रैल व मई माह में अब तक 60 नए रोगी आ चुके हैं जबकि पिछले साल करीब 300 रोगियों ने उपचार करवाया है।

तपेदिक रोगियों के लिए लाभकारी है योजना

एसएमओ डॉ. सतीश गर्ग ने बताया कि उक्त योजना तपेदिक रोगियों के लिए लाभकारी है। योजना के तहत मिलने वाली धनराशि से रोगी अपना पोषण कर पाएगा इससे उसके शीघ्र स्वस्थ होने की संभावना भी बढ़ेगी।

खबरें और भी हैं...