पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

स्कूल और शिक्षकों से जुड़ी खबर

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
उदयपुर | मिड डे मील योजना के तहत शिक्षा अधिकारियों ने मंगलवार को सरकारी स्कूलों में पोषाहार की गुणवत्ता जांचने के लिए निरीक्षण किया। जिला परिषद एसीईओ मुकेश कलाल ने कुराबड़ क्षेत्र के राजकीय उच्च माध्यमिक निमड़ी, उप्रावि बीछड़ी, उमावि साकरोदा, राउमावि भलो का गुढ़ा का निरीक्षण किया। पोषाहार चखा और स्टॉक रजिस्टर की जांच की। सफाई व्यवस्था ठीक नहीं होने पर संस्था प्रधान को पाबंद किया। कलाल ने अनाज को ज्यादा समय तक नहीं रखने और कुक कम हेल्पर को समय पर भुगतान के निर्देश दिए। इधर, जिला शिक्षा अधिकारी (मा.) नरेश डांगी सलूम्बर में उमावि बस्सी, बाउमावि झुंझावत, बाउमावि हाड़ीरानी सलूम्बर, उमावि टोडा का निरीक्षण करने पहुंचे। पोषाहार बनते देखा और चखा भी। डांगी ने बताया कि पोषाहार संतोषजनक था, लेकिन कुछ स्कूलों में सफाई व्यवस्था ठीक नहीं थी। बच्चों को खाने से पहले और खाने के बाद साबुन से हाथ धुलवाने के निर्देश दिए। शिक्षा उपनिदेशक युगल बिहारी दाधीच राजसमंद के उमावि भावा और कांकरोली स्कूल में निरीक्षण करने गए। उन्होंने वहां केन्द्रीयकृत पोषाहार व्यवस्था का जायजा लिया।

खबरें और भी हैं...