पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • लापरवाही से कार चलाकर 6 साल के बच्चे को मारने के आरोपी को एक साल की सजा

लापरवाही से कार चलाकर 6 साल के बच्चे को मारने के आरोपी को एक साल की सजा

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
विदिशा| लापरवाहीपूर्वक कार चलाने के कारण 6 साल के बच्चे पुष्पेंद्र अहिरवार की मौत के मामले में न्यायालय ने आरोपी इरफान खान वल्द इकबाल खान उम्र 30 साल निवासी किले के पास पठारी को अपराध का दोषी पाते हुए एक साल का सश्रम कारावास तथा 1000 रुपए के अर्थदंड से दंडित किया है। इस मामले में 30 जनवरी 2017 को न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी प्रीतम बंसल द्वारा निर्णय पारित किया गया था।

इस मामले में अपीलीय न्यायालय द्वारा दोषसिद्धि की पुष्टि तृतीय अपर सत्र न्यायाधीश प्रशांत कुमार द्वारा भी की गई है। घटना के संबंध में जानकारी देते हुए शासकीय अधिवक्ता नवीन वर्मा ने बताया कि सूचनाकर्ता और मृत बालक पुष्पेंद्र के चाचा नथनसिंह अहिरवार, घटना के प्रत्यक्षदर्शी बलवंत अहिरवार, शेरसिंह, गुलाबबाई, प्रीति बाई रामनारायण आदि के कथन कराए गए थे। कथन में कहा गया था कि सागर तरफ से एक स्कार्पियो गाड़ी 80 से 90 किमी प्रति घंटे की स्पीड से आई थी। करन सिंह अहिरवार का लड़का पुष्पेंद्र सड़क किनारे चल रहा था। ड्राइवर इरफान खान ने लापरवाही से गाड़ी चलाते हुए पुष्पेंद्र को टक्कर मार दी थी। गाड़ी का पहिया उसके सिर पर चढ़ गया था। इस कारण उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी। ड्राइवर गाड़ी लेकर फरार हो गया था। अभियोजन साक्षी द्वारा यह बताया गया था कि वह आरोपी इरफान खान को जानता है तथा उसके गांव का है। इस मामले में अपने निर्णय में दोषसिद्धि की पुष्टि करते हुए तृतीय अपर सत्र न्यायाधीश प्रशांत कुमार ने कहा कि विचारण न्यायालय द्वारा जो सजा दी गई है, उसे अत्यधिक नहीं कहा जा सकता। दुर्घटना में 6 साल के बालक पुष्पेंद्र की मृत्यु कारित हुई है जो यातायात के नियमों से परिचित नहीं था। ड्राइवर की लापरवाही सामने आई है जो हादसे के बाद गाड़ी लेकर फरार हो गया था।

खबरें और भी हैं...