पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जगाधरी बार में यूथ की चौधर

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जगाधरी बार एसोसिएशन में यूथ को चौधर मिली है। 1286 वोट में से 1168 पोल हुई। प्रधान पद के लिए इस बार छह उम्मीदवार मैदान में थे। पांचवें राउंड तक स्थिति क्लियर नहीं थी, लेकिन जैसे ही आखिरी छठे राउंड की काउंटिंग पूरी हुई तो इसमें 36 वर्षीय पवन कुमार पुनिया को विजेता घोषित किया गया। पुनिया को 368 वोट मिले। वे 12 वोट से जीते। दूसरे नंबर पर रहे बलविंद्र सैनी को 356 वोट पड़े। बलिंद्रपाल ढांडा को 243, दीपचंद सिंगला को 92, दिनेश चौहान को 55, साहिब सिंह गुर्जर को 46 वोट पड़े। सबसे बड़ी जीत उपप्रधान के लिए चुनाव में उतरे 33 वर्षीय दिलावर सिंह को मिली। उन्हें 711 वोट मिली और जीत का अंतर 420 रहा। चक्षु जुनेजा को 150, जीडी गुप्ता को 291 वोट पड़े। महासचिव का चुनाव 31 वर्षीय मनवीर सिंह कलेर ने जीता। उन्हें 514 वोट पड़े। वे 168 वोटों के अंतर से चुनाव जीते। रणसिंह को 300 व सुरभित वर्मा को 346 वोट मिले।

यमुनानगर | बार एसोसिएशन चुनाव में जीत के बाद खुशी मनाते हुए प्रधान व कार्यकरिणी सदस्य।

पिछले बार हारे थे, इस बार 368 वोट लेकर प्रधान बने पवन पुनिया
वोटिंग 1286/1168 | उपप्रधान के लिए सबसे अिधक रहा जीत का अंतर, दिलावर को 711 वोट मिले, मनवीर कलेर बने महासचिव

शिवानी पहले ही निर्विरोध कैशियर चुनी गई थीं।

नितिन शर्मा पहले ही निर्विरोध ज्वाइंट सेक्रेटरी चुने गए थे।

एडवोकेट पुनिया 2008 में रह चुके हैं वाइस प्रेजीडेंट
गांव मानपुर निवासी एडवोकेट पवन कुमार पुनिया दूसरी बार प्रधान पद के लिए चुनाव में उतरे थे। साल 2016 में हुए चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। उन्हें मात्र 159 वोट मिले थे। इससे पहले वे 2008 में वाइस प्रेजीडेंट रह चुके हैं। पुनिया 2005 से प्रेक्टिस कर रहे हैं। उनका कहना है कि वे दो साल से प्रधान पद के लिए तैयारी कर रहे थे। पिछली बार किसी तरह जीत नहीं पाए, लेकिन इस बार दिनरात मेहनत की और बार की प्रधानी अपने नाम कर ली।

रामकरण बने बिलासपुर बार के प्रधान
बिलासपुर | दि बिलासपुर बार एसोसिएशन के पहले चुनाव में रामकरण ने अतुल बंसल को नौ वोट से हराकर प्रधान पद पर कब्जा किया। उपप्रधान प्रदीप धीमान बने। उन्होंने संजय राणा को हराया। चुनाव में 119 अधिवक्ताओं ने भाग लिया। एआरओ एडवोकेट सेठपाल ने बताया कि प्रभजीत सिंह ने दीपक बहमनी को हराया कर महासचिव का पद जीता। सतीश बांसेवाला संयुक्त सचिव व करतार सिंह को निर्विरोध कोषाध्यक्ष चुना गया।

खबरें और भी हैं...