--Advertisement--

घग्गर को 40 फुट गहरा खोद डाला माफिया ने, वाॅटर लेवल हो रहा डाउन

घग्गर नदी के आस पास माइनिंग का काम लंबे समय से विवादों में घिरा रहा है। भले ही वो इल्लीगल माइनिंंग हो या लीगल...

Dainik Bhaskar

Jun 29, 2018, 02:05 AM IST
घग्गर को 40 फुट गहरा खोद डाला माफिया ने, वाॅटर लेवल हो रहा डाउन
घग्गर नदी के आस पास माइनिंग का काम लंबे समय से विवादों में घिरा रहा है। भले ही वो इल्लीगल माइनिंंग हो या लीगल माइनिंग ही क्यो न हो। घग्गर नदी के किनारे बसे गांव रामपुर कलां के किसानों की मानें तो माइनिंग का ऐसा खेल चला कि घग्गर नदी को माइनिंग माफिया ने लीगल व इल्लीगल तरीके से माइनिंग कर 30 से 40 फुट गहरा कर दिया है, जिस कारण खेतों के ट्यूबवेल्स का वाॅटर लेवल डाउन जा रहा है। अगर माइनिंग विभाग ने इस पर रोक न लगाई तो किसानों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ेगा। गांव निवासियों के अनुसार उन्होंने इसकी शिकायत माइनिंग विभाग व डिस्ट्रिक्ट नोडल अफसर माइनिंग तक को कर दी है।


-चरणदेव सिंह मान, डिस्ट्रिक्ट नोडल अफसर माइनिंग-कम-एडीसी मोहाली

खेतों में माइनिंग बढ़ाएगी नदी का दायरा

घग्गर नदी के किनारे स्थित खेतों के मालिकों ने कहा कि नदी में जहां लीगल माइनिंग है, वहां माइनिंग की जाए तो कोई हर्ज नहीं है, लेकिन बहुत से किसानों के खेतों में भी उनकी सहमति से माइनिंग की जा रही है। ऐसी माइनिंग आगे के खेत मालिकाें के लिए घातक है। जैसे-जैसे खेतों के एरिया में माइनिंग होती जाएगी, घग्गर का दायरा भी उतना ही बढ़ता जाएगा और आगे के किसानों के खेेत भी इसकी जद में आ जाएंगे।


किसानों ने बताया कि अगर सभी अपने खेतों में भी खुदाई करवाने लगे या माइनिंग माफिया खेतों को निशाना बनाने लगा तो बरसात आने पर घग्गर का रुख ऐसा बदलेगा कि वो कई एकड़ तक खेतों को अपने में मिला लेगा। घग्गर की मिट्टी कटने से कई खेत घग्गर का हिस्सा बन जाएंगे। विभाग को माइनिंग करवाने वाले खेत मालिकों पर कार्रवाई करनी चाहिए।


घग्गर को 40 फुट गहरा खोद डाला माफिया ने, वाॅटर लेवल हो रहा डाउन
X
घग्गर को 40 फुट गहरा खोद डाला माफिया ने, वाॅटर लेवल हो रहा डाउन
घग्गर को 40 फुट गहरा खोद डाला माफिया ने, वाॅटर लेवल हो रहा डाउन
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..