• Home
  • Chandigarh Zilla
  • Mohali
  • Zirakpur
  • प्रदूषित पानी की सप्लाई से नाभा में बीमार हुए लोग, दी रोड जाम की चेतावनी
--Advertisement--

प्रदूषित पानी की सप्लाई से नाभा में बीमार हुए लोग, दी रोड जाम की चेतावनी

जीरकपुर में पानी की सप्लाई को लेकर लोगों की शिकायतें लगातार बढ़ रही हैं। पटियाला रोड पर वार्ड 23 के अंतर्गत आने वाले...

Danik Bhaskar | Jul 10, 2018, 02:05 AM IST
जीरकपुर में पानी की सप्लाई को लेकर लोगों की शिकायतें लगातार बढ़ रही हैं। पटियाला रोड पर वार्ड 23 के अंतर्गत आने वाले नाभा में पिछले काफी समय से प्रदूषित पानी की सप्लाई हो रही है। पानी में मिट्टी के अलावा दुर्गंध आ रही है। गंदे पानी की सप्लाई से लोग आहत हैं। लोगों ने आरोप लगाया कि यह सब जीरकपुर एमसी की वजह से हो रहा है। यहां प्रदूषित पानी पीने से कई लोग बीमार हो चुके हंै। लोगों की सेहत पर इसका बुरा असर पड़ रहा है। लोगों का आरोप है कि गंदे पानी की शिकायत यहां के पार्षद, एमसी प्रधान और विधायक एनके शर्मा को भी दी। गंदे पानी की समस्या एक दिन की नहीं बल्कि लंबे समय से चली आ रही है। पिछले कई सालों से एमसी जीरकपुर के सीवरेज और वाटर सप्लाई ठेकेदार कुलदीप सिंह से लोगों से कहा था कि यहां पानी की सप्लाई में सुधार करे। पर वह यहां आता है। आकर चला जाता है। कुलदीप यहां आकर खाना पूर्ति कर चला जाता है। लोगों का कहना है कि एमसी जीरकपुर में इस बारे में कई बार शिकायत करने के बावजूद कोई असर नहीं पड़ा है।

विरोध में लोगों ने एमसी के खिलाफ किया प्रदर्शन...

नाभा गांव के रहने वाले मंगत सिंह, लंबरदार नरेश कुमार, राजिंदर, सुखविंदर सिंह, प्रीतम सिंह, सतनाम सिंह, मंजीत कौर, बलविंदर कौर, कर्मजीत कौर व गुरजीत सिंह ने रोष जताते हुए कहा कि पिछले काफी समय से उनके इलाके में बहुत ही प्रदूषित पानी छोड़ा जा रहा है। इस पानी के अलावा दूसरा कोई ऑप्शन न होने की वजह से लोगों को इसी पानी को पीना पड़ रहा है, जिससे काफी लोग बीमार भी हो गए हैं। खासतौर पर बुजुर्गों और बच्चों की सेहत पर इसका काफी बुरा असर पड़ रहा है। लोगों ने यह भी बताया कि इसे लेकर गांव वासियों ने एमसी में भी कई बार शिकायत की है। लेकिन इस पर कोई एक्शन नहीं लिया गया, लोगों ने सख्त चेतावनी दी है कि अगर 2 दिनों में समस्या का समाधान न निकाला गया तो वे पटियाला रोड़ जाम कर देंगे। उन्होंने कहा कि गंदे पानी की सप्लाई से यहां पर लोग बीमार हो रहे हैं। कई बार शिकायत करने के बाद भी एमसी के अधिकारी नहीं सुनते। लोगों ने समस्या सुलझाने की मांग की है।