--Advertisement--

मॉडल्स के साथ रैंप पर उतरेंगे दिव्यांग बच्चे

एंजल्स ऑन अर्थ। 15 जुलाई को होने वाले इस कार्यक्रम में सोलो व प्रोफेशनल मॉडल्स के साथ दिव्यांग बच्चे रैंप वॉक...

Danik Bhaskar | Jul 14, 2018, 02:05 AM IST
एंजल्स ऑन अर्थ। 15 जुलाई को होने वाले इस कार्यक्रम में सोलो व प्रोफेशनल मॉडल्स के साथ दिव्यांग बच्चे रैंप वॉक करेंगे। इसकी थीम रहेगी ब्राइडल। इसमें पांच अलग राउंड्स होंगे। मंच बनेगा जीरकपुर का फ्लेमिंगो होटल और समय रहेगा दोपहर 3 से शाम 6 बजे।

यह प्रोग्राम अस्तित्व फाउंडेशन की ओर से कराया जाएगा। यह जानकारी अस्तित्व फाउंडेशन की मीनाक्षी जैन ने दी। उनके साथ ऑल इंडिया एकेडमी ऑफ टीचर्स एजुकेशन की प्रेसीडेंट रीना सिंगला व कई ब्यूटी पेजेंट का चेहरा रही डॉक्टर शिवानी मौजूद थी। उन्होंने बताया- इस कार्यक्रम का मकसद दिव्यांग बच्चों को प्रेरित करना, उनके टैलेंट को दिखाना और उन्हें रोजगार दिलाना है। असल में बच्चों को उनका अस्तित्व खुद ढूंढ़ता है। मीनाक्षी 2009 से समाज सेवा से जुड़ी हैं। दो साल पहले ही संस्था अस्तित्व फाउंडेशन बनाई है। इसके जरिए महिलाओं, दिव्यांग बच्चों और वृद्धाश्रमों के लिए पचास एक्टिविटीज करा चुकी हैं। ताकि वे शारीरिक व मानसिक तौर पर मजबूत बनें। दिव्यांग बच्चों के लिए ब्राइडल रैंप उनका पहला प्रोग्राम है। बताती हैं- अपनी संस्था के जरिए तीन हजार दिव्यांग बच्चों से जुड़ी हूं। मैंने देखा कि इनका करियर काफी स्ट्रगलिंग रहता है। उन्हें कहीं से सपोर्ट नहीं मिलता। हालांकि उनमें टैलेंट है। पर प्लेटफॉर्म न होने की वजह सेे वह घरों तक सीमित रह जाता है। उन्हीं के लिए मुझे कुछ करना है। इसीलिए पहल करते हुए उनके लिए पेजेंट की तरह ब्राइडल रैंप वाॅक का प्रोग्राम बनाया। इसमें किसी तरह के कंपीटिशन को नहीं जोड़ा। बल्कि प्लेटफॉर्म बनाया है। जिससे कि दिव्यांग बच्चेे प्रेरित हों। कॉन्फिडेंट बने और उनका टैलेंट बाहर आए।

एक दिन का ग्रूमिंग सेशन भी होगा|पार्टिसिपेंट्स का एक दिन का ग्रूमिंग सेशन होगा। इसे डॉ. शिवानी लेंगी। बताती हैं- मैं इन्हें मेकअप और ड्रेसिंग पर गाइड करूंगी। वॉक कैसे करना है। पोज कैसा होना चाहिए। इससे उनका सेल्फ कॉन्फिडेंस बढ़ेगा।