• Home
  • Chandigarh Zilla
  • Mohali
  • Zirakpur
  • जीरकपुर के मास्टर प्लान को दरकिनार कर किए जा रहे निर्माणों के काम को एमसी ने रोका
--Advertisement--

जीरकपुर के मास्टर प्लान को दरकिनार कर किए जा रहे निर्माणों के काम को एमसी ने रोका

जीरकपुर शहर में बिल्डिंग बायलॉज को अनदेखा कर जो लोग कॉलोनियां, फ्लैट्स व दुकानें बना रहे हैं। उन पर पुलिस की...

Danik Bhaskar | Jun 09, 2018, 02:15 AM IST
जीरकपुर शहर में बिल्डिंग बायलॉज को अनदेखा कर जो लोग कॉलोनियां, फ्लैट्स व दुकानें बना रहे हैं। उन पर पुलिस की कार्रवाई होगी। शुक्रवार को एमसी के अधिकारियों की एक टीम ने शहर में कई कॉलोनियों में दौरा किया। एक्सइन विनय महाजन के नेतृत्व में टीम ने शहर में कई निर्माणों का काम रोका। रोकने के बाद भी जो लोग नहीं मानेंगे। उनके निर्माण गिराने का काम एमसी करेगी। अगर इस कार्रवाई को रोकने की किसी ने कोशिश की तो उस पर पुलिस केस भी दर्ज कराया जाएगा। यह सब कार्रवाई शहर को मास्टर प्लान के मुताबिक विकसित करने के लिए की जा रही है।

15 फुट चौढ़ी गली छाेड़कर नाले के उपर बनाए फ्लैट : यहां ढकोली में गुरुद्वारा बाउली साहिब से पहले डिफेंस अपार्टमेंट के पिछले हिस्से में एक व्यक्ति ने यहां नाले के उपर फ्लैट बना रहा है। यहां नाले के उपर बने फ्लैट का हर्ष भी इंपीरियल गार्डन की तरह ही हो सकता है। मौके पर सड़क के लिए मास्टर प्लान के मुताबिक 35 फुट रोड होनी चाहिए। लेकिन, बिल्डर ने 15 फुट के करीब रास्ता छोड़ा है। विनय महाजन ने कहा कि हमने इसका काम रोक दिया है। अगर वहां दौबारा काम शुरू हुआ तो बिल्डर्स के खिलाफ पुलिस में शिकायत दी जाएगी। ऐसे निर्माणों से किसी की जान को भी खतरा हो सकता है।

अवैध निर्माण करने वाले उलझे एमसी की टीम से : यहां पभात-नाभा रोड पर बन रही अवैध कॉलोनियों, दुकानों के निर्माण को रोकने की कार्रवाई के दौरान एमसी की टीम से कई लेाग झगड़ने लगे। इनके दस्तावेज मांगे गए तो वे दिखा नहीं सके। यह चेकिंग और राेकने की कार्रवाई रोजाना की जाएगी। इससे कुछ सुधार होगा। विनय महाजन ने कहा कि आगे से पुलिस को साथ लेकर जाएंगे, पर शहर के हित के लिए यहां किसी भी तरीके से मनमाने निर्माण नहीं होने देंगे।

यह कार्रवाई रोजाना हो तो ही निकलेगा रिजल्ट: प्रोफेसर रिटायर्ड फूलचंद मानव ने बताया कि एमसी की इस कार्रवाई की सराहना करता हूं, पर इसका परिणाम अच्छा निकले तो ही फायदा है। अधिकारियों की जिम्मेदारी है कि वे किसी के दबाव में आए बिना अपने काम को करें। शहर को मास्टर प्लान के मुताबिक विकसित करने का रोल निभाएं। अगर ऐसा करने में ये अधिकारी कामयाब हो गए तो शहर में बड़ा बदलाव आएगा। प्रॉपर्टी डीलर, बिल्डर्स मनमाने निर्माण करने से डरेंगे।

वहीं, एमसी जीरकपुर के एक्सइन विनय महाजन ने बताया कि आज की कार्रवाई में कई जगहों पर लोग एमसी की टीम से उलझे, पर इसकी चिंता नहीं है। जो नियमों के बाहर जाकर निर्माण करेगा, उस पर हर हाल में कार्रवाई होगी। यह कार्रवाई लगातार चलेगी।