• Home
  • Chandigarh Zilla
  • Mohali
  • Zirakpur
  • गुंडागर्दी करने वाले यूनियन के लोगों ने थाने में मांगी माफी
--Advertisement--

गुंडागर्दी करने वाले यूनियन के लोगों ने थाने में मांगी माफी

जीरकपुर में चंद पिकअप गाड़ियों के मालिक अपनी ही यूनियन बनाकर एरिया में पूरी गुंडागर्दी कर रहे हैं। यह गुंडागर्दी...

Danik Bhaskar | Jun 24, 2018, 02:15 AM IST
जीरकपुर में चंद पिकअप गाड़ियों के मालिक अपनी ही यूनियन बनाकर एरिया में पूरी गुंडागर्दी कर रहे हैं। यह गुंडागर्दी किसी और के सिर पर नहीं, बल्कि एरिया पुलिस के सिर पर की जा रही है। इसकी पोल शनिवार दोपहर उस समय खुली, जब ढकोली एरिया में पंचकूला से पिकअप चालक सुमित एक शटरिंग स्टोर पर सामान लेने पहंुचा। अभी सुमित सामान लाद ही रहा था कि सतगुरु पिकअप यूनियन के करीब दो दर्जन सदस्य शॉप पर पहंुच गए और सुमित को धमकाते हुए धक्कामुक्की करने लगे। बात यहीं खत्म नहीं हुई। सुमित बचाव में पुलिस को कॉल करने लगा तो यूनियन सदस्यों ने कहा कि जिसे मर्जी बुला लो, पुलिस वाले क्या करेंगे, वो तो खुद उनसे वगारें करवाते हैं। इस बात को लेकर सदस्यों और पुलिस में काफी हंगामा भी हुआ। सभी को ढकोली पुलिस थाने ले गई। जहां देर शाम यूनियन प्रधान व सदस्यों ने लिखित माफी मांगकर जान छुड़ाई और लिखकर दिया कि भविष्य में कोई भी वाहन चालक जीरकपुर में आकर सामान ला-ले जा सकता है। कोई किसी को नहीं रोकेगा।



मामला शनिवार दोपहर ढकोली के पास का है। पंचकूला से पिकअप चालक सुमित एक शटरिंग स्टोर पर सामान लेने आया और जब सामान गाड़ी में लोड हो रहा था तो स्टोर पर यूनियन के सदस्य पहंुच गए। इनमें नाभा साहब गांव के गुरप्रीत सिंह व अन्य शामिल थे। इन सबने पिकअप चालक सुमित से हाथापाई करते हुए उसको गाड़ी में लोड सामान उतारने के लिए कहा। सभी सदस्यों का कहना था कि 10 सालों से उनकी पिकअप यूनियन बनी हुई है, इसलिए कतार में उनकी गाड़ी का नंबर आता है। ऐसे में बाहरी एरिया से उनके एरिया में आई गाड़ी कैसे सामान ले जा सकती है। सदस्यों ने शटरिंग स्टोर में घुसकर पूरी गुंडागर्दी की।


पंचकूला से आया पिकअप चालक सुमित सभी सदस्यों से आग्रह करता रहा कि वो उससे अभद्र व्यवहार कर गलत कर रहे हैं, लेकिन यूनियन सदस्यों पर गुंडागर्दी का भूत सवार था। जब सुमित लेाकल पुलिस को कॉल करने लगा तो सदस्यों ने कहा कि पुलिस उनका कुछ नहीं कर सकती, जिसको बुलाना है बुला लो।


इस मामले को लेकर थाने में बैठाए यूनियन सदस्य गुरप्रीत सिंह ने बताया कि उसको तो यूनियन प्रधान ने ही बाहरी एरिया से आई गाड़ियों को रोकने के लिए कहा था। अब वह अकेला थाने में है और उसके साथ कोई नहीं है। यूनियन प्रधान जगतार सिंह व रणजीत सिंह का पक्ष जानने के लिए उनको फोन किया तो दोनों के फोन बंद आए। यूनियन के आॅफिस फोन किया तो फोन उठाने वाले ने किसी भी प्रधान से बात नहीं करवाई। वहीं ढकोली थाना पुिलस मुलाजिमों का कहना था कि परसों भी एक गाड़ी इम्पाउंड की है। उसने भी ऐसा ही कहा कि पुलिस की वगार करता है। लेकिन जब पूछा गया तो कोई जवाब नहीं दिया। वह राॅन्ग साइड ओवरलोड होकर आ रहा था। पुलिस ने चालान काट गाड़ी इम्पाउंड कर ली थी।


-जगजीत सिंह, एसएचओ ढकोली


मौके पर ढकोली थाने से पुलिस पार्टी पहंुची तो कुछ सदस्य तो मौके से फरार हो गए, लेकिन पुलिस ने गुरप्रीत सिंह नाम के पिकअप यूनियन सदस्य को पकड़ लिया। उसको थाने लेकर आए तो उसके पीछे यूनियन प्रधान जगतार सिंह, रणजीत सिंह व अन्य भी पंहुच गए। मौके पर पिकअप चालक सुमित ने शिकायत दी, जिस पर पुलिस ने सब यूनियन सदस्याें को थाने में बैठा लिया। थाने में सदस्यों द्वारा बोली पुलिस वगार की बात पर काफी माहौल गर्म रहा और पुलिस ने सख्ती दिखाई। जिस पर सभी यूनियन सदस्य अपनी बात से पलट गए और कहा कि ऐसा कुछ नहीं बोला। देर शाम पुलिस ने सबसे लिखित में माफी मंगवाई और उनसे लिखवाया कि वह किसी बाहरी एरिया से जीरकपुर आई गाड़ी को नहीं रोकेंगे। यदि ऐसा करते हैं तो पुलिस उनके खिलाफ केस रजिस्टर्ड करेगी।