• Home
  • Chandigarh Zilla
  • Mohali
  • Zirakpur
  • मास्टर प्लान में जहां बननी है रोड, वहीं हो रहे अवैध निर्माण
--Advertisement--

मास्टर प्लान में जहां बननी है रोड, वहीं हो रहे अवैध निर्माण

लोकल बाडीज मिनिस्टर नवजोत सिंह सिद्ध के आदेश के बाद शहर में नक्शा पास करने इसलिए बंद किए गए थे कि अवैध निर्माण...

Danik Bhaskar | Jul 13, 2018, 02:15 AM IST
लोकल बाडीज मिनिस्टर नवजोत सिंह सिद्ध के आदेश के बाद शहर में नक्शा पास करने इसलिए बंद किए गए थे कि अवैध निर्माण रुकें। मास्टर प्लान के मुताबिक की निर्माण हों। पर शहर में कई जगह पर मास्टर प्लान को दरकिनार कर यहां निर्माण हो रहे है। बिना नक्शा पास किए हो रहे निर्माण को राेकने का काम जीरकपुर एमसी के अधिकारियों को करना है। पर ऐसा यहां नहीं हो रहा है। यहां वीआईपी रोड पर साउथ सिटी के पास मास्टर प्लान में शामिल रोड के ऊपर ही निर्माण कर दिए गए है। वहां यहां दयालपुरा में सड़क की जगह में गोडाउन बना दिया गया है। शहर में एक नहीं कई निर्माण बिल्डिंग बायलाॅज और मास्टर प्लान को चुनौती दे रहे है। पर इन पर कार्रवाई नहीं हो रही है। गलत निर्माण को रोकने के लिए एमसी के अधिकारी कोई कार्रवाई नहीं कर रहे है। जीरकपुर के मास्टर प्लान के मुताबिक यहां रेजीडेंशियल निर्माण के आगे 35 फुट चौड़ी सड़क होनी जरुरी है। इससे कम पर मकान नहीं बन सकता है। इतनी जगह सड़क के लिए हर हाल में चाहिए। इसके अलावा कमर्शियल के लिए 65 फुट रोड चाहिए। इसके साथ जहां भी मास्टर प्लान में रोड की जगह छोड़ी गई है। उस जगह पर निर्माण नहीं हो सकता है।

अधकारियों को जांच करनी चाहिए...

शहर में सड़कों की जगह निर्माण हो रहे हैं। इसके बारे में एमसी की मीटिंग में कई बार एमसी के अधिकारियों को बताया कि कहां किस जगह गलत निर्माण हो रहे हैं। पिछले सालों हमने यहां सड़कों की जगह पर कब्जे होने के लिए पूरी कोशिश की। सरकार बदलते ही यहां सड़कों की जगह और मास्टर प्लान को भूल गए।

सिटी रिपोर्टर | जीरकपुर

लोकल बाडीज मिनिस्टर नवजोत सिंह सिद्ध के आदेश के बाद शहर में नक्शा पास करने इसलिए बंद किए गए थे कि अवैध निर्माण रुकें। मास्टर प्लान के मुताबिक की निर्माण हों। पर शहर में कई जगह पर मास्टर प्लान को दरकिनार कर यहां निर्माण हो रहे है। बिना नक्शा पास किए हो रहे निर्माण को राेकने का काम जीरकपुर एमसी के अधिकारियों को करना है। पर ऐसा यहां नहीं हो रहा है। यहां वीआईपी रोड पर साउथ सिटी के पास मास्टर प्लान में शामिल रोड के ऊपर ही निर्माण कर दिए गए है। वहां यहां दयालपुरा में सड़क की जगह में गोडाउन बना दिया गया है। शहर में एक नहीं कई निर्माण बिल्डिंग बायलाॅज और मास्टर प्लान को चुनौती दे रहे है। पर इन पर कार्रवाई नहीं हो रही है। गलत निर्माण को रोकने के लिए एमसी के अधिकारी कोई कार्रवाई नहीं कर रहे है। जीरकपुर के मास्टर प्लान के मुताबिक यहां रेजीडेंशियल निर्माण के आगे 35 फुट चौड़ी सड़क होनी जरुरी है। इससे कम पर मकान नहीं बन सकता है। इतनी जगह सड़क के लिए हर हाल में चाहिए। इसके अलावा कमर्शियल के लिए 65 फुट रोड चाहिए। इसके साथ जहां भी मास्टर प्लान में रोड की जगह छोड़ी गई है। उस जगह पर निर्माण नहीं हो सकता है।