Hindi News »Chandigarh Zilla »Mohali »Zirakpur» हुडा ने घरों की सीवरेज का प्रदूषित पानी पीरमुछल्ला एरिया में छोड़ना नहीं किया बंद

हुडा ने घरों की सीवरेज का प्रदूषित पानी पीरमुछल्ला एरिया में छोड़ना नहीं किया बंद

सालों से पंचकूला के सेक्टर-21 के घरों का पानी पीरमुछल्ला में छोड़ने का काम बंद नहीं हो रहा है। इससे पीरमुछल्ला का...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 08, 2018, 02:15 AM IST

हुडा ने घरों की सीवरेज का प्रदूषित पानी पीरमुछल्ला एरिया में छोड़ना नहीं किया बंद
सालों से पंचकूला के सेक्टर-21 के घरों का पानी पीरमुछल्ला में छोड़ने का काम बंद नहीं हो रहा है। इससे पीरमुछल्ला का जमीनी पानी पूरी तरह से प्रदूषित होने से यहां के लोग शिकायत कर रहे हैं। जमीन के अंदर तो पानी प्रदूषित हो ही रहा है। यहां बीड़ एरिया में केमिकलयुक्त पानी से कई पेड़ भी सूखने लगे हैं। यहां पानी सेक्टर 20-21 की डिवाइडिंग रोड से होकर पीरमुछल्ला में गिराया जा रहा है। हुडा के एक्सइन ने कहा कि गंदा पानी नहीं छोड़ा जा रहा है, पर मैं पूरी तरह से इसकी जांच कराऊंगा। प्रदूषित पानी अगर मिला तो बंद किया जाएगा।

पाइप लाइन तो पड़ी पर कमी है कहीं न कहीं : हरियाणा अर्बन डेवलपमेंट अथॉरिटी (हुडा) ने जब सेक्टर-21 को बसाया तो यहां के करीब 2500 घरों के सीवरेज को ट्रीटमेंट प्लांट तक ले जाने के लिए पाइप लाइन नहीं डाली थी। पिछले दो सालों से इस विषय पर यहां के लोगों ने काफी विरोध किया, तब जाकर हुडा ने नई पाइप लाइन डाली है। लेकिन, इससे भी पूरा पानी सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट में नहीं जा रहा है। घरों का पानी पंजाब के पीरमुछल्ला में जा रहा है।

पार्षद ने मौके पर आकर दिखाया सीवरेज का पानी...पीरमुछल्ला के पार्षद जगदेव सिंह ने बताया कि सालों से छोड़े जा रहे सीवरेज के पानी से यहां जमीन के अंदर का पानी पूरी तरह से प्रदूषित हो चुका है। दिन में पानी कम हो जाता है। सुबह और शाम इसकी मात्रा बढ़ जाती है। केमिकल युक्त पानी से यहां बीड़ के एरिया के पेड़ भी सूखने लगे हैं।

ऐसा नहीं है कि सेक्टर-21 का सीवरेज का पानी पीरमुछल्ला में छोड़ा जा रहा हो। सारा पानी सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट में जाता है। ट्रीटेड वाॅटर हो सकता है, पर मैं अभी बीमार हूं। इस काम की चेकिंग के लिए किसी की ड्यूटी लगा रहा हूं। अगर प्रदूषित पानी छोड़ा जा रहा है तो वह हर हाल में बंद किया जाएगा। -करन सिंह अहलावत, एक्सइन हुडा

पंजाब के प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने एक बार भी इसका संज्ञान नहीं लिया... हरियाणा अर्बन डेवलपमेंट अथॉरिटी (हुडा) के अधिकारी सालों से यही बात करते आए हैं कि यहां पानी नहीं छोड़ा जा रहा है। जबकि, मौके पर हर दिन लाखों लीटर पानी यहां गिर रहा है। हुडा के अधिकारी यह भी दावा कर रहे हैं कि सेक्टर-21 के घरों का सीवरेज सेक्टर-20 में बने सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट तक पहुंचा दिया है। सारा सीवरेज का पानी वहीं छोड़ा जा रहा है। दो साल पहले प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड हरियाणा ने यहां मौके पर आकर हुडा के अधिकारियों को नोटिस भी जारी किया है, पर पंजाब प्रदूषण बोर्ड के अधिकारियों ने एक बार भी यहां आकर यह चेक नहीं किया कि उनके एरिया में कितना प्रदूषित पानी सालों से छोड़ा जा रहा है। हां, पर्यावरण दिवस के मौके पर पंजाब के वातावरण मंत्री ओमप्रकाश सोनी के साथ पंजाब प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के चीफ एन्वायर्नमेंट इंजीनियर गुलशन राय, एक्सईन लवनीत दूबे और एसडीओ गुरशरण गर्ग ने घग्गर पुल के नीचे गंदे पानी का जायजा लिया। अधिकारियों को चाहिए कि डिटेल में पूरे एरिया की चेकिंग करें। अब देखना यह होगा कि सोनी के आदेश के बाद लोगों को एक महीने के भीतर प्रदूषण की रोकथाम में सकारात्मक बदलाव आता है या नहीं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Zirakpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×