--Advertisement--

लोगों की सुरक्षा के लिए किरायेदारों की वेरिफिकेशन जरूरी

लोगों की सुरक्षा के लिए किरायेदारों की वेरिफिकेशन जरूरी जीरकपुर | जीरकपुर में इस समय हजारों की संख्या में फ्लैट...

Dainik Bhaskar

Jun 12, 2018, 02:15 AM IST
लोगों की सुरक्षा के लिए किरायेदारों की वेरिफिकेशन जरूरी
लोगों की सुरक्षा के लिए किरायेदारों की वेरिफिकेशन जरूरी

जीरकपुर | जीरकपुर में इस समय हजारों की संख्या में फ्लैट खरीदकर लोग किराये पर दे रहे हैं। उनमें कौन रह रहा है। इसकी जानकारी पुलिस को नहीं है। क्योंकि अधिकतर फ्लैट्स होल्डर किरायेदार की वेरिफिकेशन नहीं कराते। अपने स्तर पर जांच पड़ताल कर किराये पर दे देते हैं। इससे पता नहीं चलता कि कौन क्या कर रहा है। क्रिमिनल है या नहीं। इसकी पूरी जानकारी नहीं मिलती है। खासकर फ्लैट्स में ऐसा हो रहा है। क्योंकि क्रिमिनल्स किसी घर में रहने के बजाए अपार्टमेंट्स में किराये पर रहना पसंद करते हैं। जीरकपुर पुलिस ने शहर में कुछ जगह पर किरायेदारों की चेकिंग की।

सन्नी एन्क्लेव और पारस डाउन टाउन शॉपिंग मॉल जाने वाली सड़क खराब

जीरकपुर| जीरकपुर का सन्नी एन्क्लेव और इसके पास पारस डाउन टाउन शॉपिंग मॉल और बीच में सड़क खस्ता हालत में हैं। सड़क की हालत भी ऐसी की इस पर एक फुट तक गहरे गड्ढा पड़े है। यहां के निवासी नगीना सिंह ने बताया कि कितने ही लोग इस टूटी सड़क से गिर रहे हैं। इसके बावजूद इसे एमसी की ओर से ठीक नहीं किया जा रहा है। यह अकेली सड़क नहीं है। जीरकपुर में कई सड़कों की यही दशा बनी हुई है। शहर के अंदर की सड़कों पर रोजाना कोई न कोई गिरकर जख्मी हो रहा है। सड़कों को बनाने का काम यहां की नगर परिषद का है। जिस पर अकाली दल काबिज है।

जीरकपुर के कई वार्डों में लगे हैं कचरे के ढेर, महीनों से नहीं की गई सफाई

जीरकपुर| जीरकपुर में एक ओर एमसी यहां लोगों से स्वच्छता के सर्वेक्षण में इस शहर को शामिल करने के लिए बात कर रही है। वहीं, दूसरी ओर शहर के हालातों से पता चलता है कि एमसी खुद ही अपना काम नहीं कर रही है। शहर में हरेक वार्ड में कचरे के ढेर लगे हैं। सफाई नहीं हो रही है। आलम यह है कि हरेक गली में गारबेज के डंप लगे हैं।

अवैध काॅलोनियों के लिए रात को जोड़े जा रहे पानी कनेक्शन

जीरकपुर| एक ओर अवैध और मनमाने निर्माण पर कंट्रोल करने के लिए लोकल बाॅडीज विभाग ने पूरे शहर के नक्शे पास करने बंद किए हैं। वहीं कुछ प्राॅपर्टी डीलर मकान बनाकर उनको पानी जैसी बुनियादी सुविधा देने के लिए रात के समय सरकारी वाॅटर सप्लाई लाइनों को तोड़कर कनेक्शन जोड़ रहे हैं। जबकि नियम के अनुसार अगर कोई प्रॉपर्टी डीलर छोटी या बड़ी किसी तरह की भी रेजिडेंशियल कॉलोनी बनाता है ताे उसको रेगुलर करने और बुनियादी सुविधाएं देने का काम उसे ही करना है।

X
लोगों की सुरक्षा के लिए किरायेदारों की वेरिफिकेशन जरूरी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..