Hindi News »Chandigarh Zilla »Mohali »Zirakpur» 350 टेम्प्रेचर, सैनी विहार फेज-1 में 15 घंटे तक नहीं आई बिजली

350 टेम्प्रेचर, सैनी विहार फेज-1 में 15 घंटे तक नहीं आई बिजली

हर महीने जीरकपुर से 20 करोड़ रुपए बिजली बिल वसूलने वाले पंजाब प्रदेश पॉवर कॉर्पोरेशन के अधिकारियों को पब्लिक की...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 03, 2018, 03:05 AM IST

  • 350 टेम्प्रेचर, सैनी विहार फेज-1 में 15 घंटे तक नहीं आई बिजली
    +1और स्लाइड देखें
    हर महीने जीरकपुर से 20 करोड़ रुपए बिजली बिल वसूलने वाले पंजाब प्रदेश पॉवर कॉर्पोरेशन के अधिकारियों को पब्लिक की हालत पर जरा भी तरस नहीं आ रहा है। 35 डिग्री से ज्यादा तापमान में 15 घंटे की बिजली कटौती से लोग बुरी तरह परेशान हैं। रविवार रात सैनी विहार फेज 1 के सैकड़ों परिवार रात भर सो नहीं सके। रात करीब 9 बजे बिजली की लाइन पर करीब 20 मिनट तक शॉर्टसर्किट से स्पार्किंग होती रही। तारें जल गई। इसके साथ पूरे एरिया की बत्ती गुल हो गई। लोग रात को पावरकॉम के जेई, एसडीओ और अन्य कर्मियों जिन तक लाइन चालू करने की गुहार लगाते रहे। सभी से फोन कर लाइट चालू करने को कहा, लेकिन सुबह 10 बजे तक कोई लाइन चालू करने के लिए नहीं पहुंचा। सैनी विहार फेज 1 में रात 9 बजे से गुल बिजली जब सोमवार सुबह 10 बजे तक चालू नहीं हुई तो गुस्साए लोग आरएस आर्य, शमशेर , इंद्रजीत, संजय शर्मा, सुखबीर, मुकेश मित्त्ल, राजीव, राकेश, सरिता, ममता व अन्य पॉवरकाम के ऑफिस पहुंचे। वहां सीट पर एसडीओ नहीं मिला। परेशान लोगों ने पावरकाॅम के घटिया सिस्टम और लापरवाह अफसरों के खिलाफ नारेबाजी की। उसके बाद लोगाें ने मौके पर पावरकाॅम के एसई रविंदर सिंह सैनी को इसकी जानकारी दी। जब पावरकॉम के मेन ऑफिस में कोई अफसर इन लोगों की सुनवाई के लिए नहीं मिला तो सभी चंडीगढ़-अंबाला रोड पर एक्सईएन एचएस ओबरॉय के ऑफिस जा पहुंचे। यहां एक्सईएन को लोगों ने शिकायत दी।

    लोग बिजली वालों को फोन करते रहे किसी ने नहीं उठाया

    अधिकारियों का कहना- पावरकाॅम के पास कम हैं कर्मचारी

    पावरकॉम ऑफिस के बाहर नारेबाजी करते बिजली न आने से परेशान लोग।

    शाॅर्टसर्केट से जल जाती हैं तारें|पूरे 15 घंटे के बाद सैनी विहार फेज 1 में बिजली सप्लाई बहाल हो सकी। पूरी रात और सुबह से लेकर दोपहर तक लोग गर्मी से बेहाल होने के बाद बिजली सप्लाई बहाल हुई। पावरकाॅम के कर्मियों ने यहां टेंपरेरी तौर पर तारें जोड़ी हैं। लोगों की शिकायत है कि जिस तरह काम किया गया है फिर से यहां शाॅर्टसर्किट से तारें जल जाएंगी।

    गुस्साए लोगों ने पावरकॉम के ऑफिस का घेराव किया

    ये है हकीकत

    पावरकाॅम के पास कर्मचारी नहीं हैं जो समय पर लोगों की शिकायतों पर काम कर सकें। इसलिए लोगों को गर्मी के इस मौसम में 15 घंटे बिजली कटौती झेलनी पड़ रही है। रविवार को सैनी विहार फेज 1 में भी यही हुआ। लोग रात 9 बजे से शिकायत करते रहे। सप्लाई 15 घंटे बाद बहाल हुई। ऐसी सर्विस से जनता बेहद हताश है। पावरकाॅम के पास यहां जली तारों को बदलने के लिए भी तारें नहीं मिली। लोगों ने कहा कि जो तारें यहां डाली गई हैं बेहद कमजोर हैं। वे पूरा लोड नहीं झेल सकती हैं। इसके अलावा बिजली के खंभों पर तारों के जाल से यह सब हो रहा है।

    फोन भी नहीं उठाते

    रातभर पावरकाॅम के फोन नंबर पर कॉल करते रहे किसी ने जवाब नहीं दिया। 15 घंटे के बाद बिजली सप्लाई बहाल हुई। ऐसा घटिया सिस्टम बिजली का पूरे देश में और कहीं देखने को नहीं मिलेगा। आरएस आर्य, प्रधान रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन सैनी विहार

    शिकायत मिलने के तुरंत बाद लाइन ठीक करने के लिए एक्सईएन को कह दिया था। पावरकॉम की पूरी टीम को हर समय तैयार रखा गया है ताकि समय पर लोगों की शिकायत पर काम हो। रविंदर सिंह सैनी एसई पावरकॉम मोहाली

  • 350 टेम्प्रेचर, सैनी विहार फेज-1 में 15 घंटे तक नहीं आई बिजली
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Zirakpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×