--Advertisement--

पैसों की कमी दूर करने के लिए बुधवार से शुरू करें ये सिद्ध उपाय, 40 दिन में हो सकता है फायदा

कुंडली में धन भाव के स्वामी बुध को ही माना गया है। बुध अगर अच्छा है तो आपको धन की कभी कमी नहीं रहेगा।

Danik Bhaskar | Apr 24, 2018, 03:40 PM IST

रिलिजन डेस्क. अगर घर में पैसों की दिक्कत रहती है, बिजनेस में वैसा फायदा नहीं मिलता या पैसों की बचत नहीं रहती है तो भगवान गणपति आपकी समस्या दूर कर सकते हैं। भगवान गणपति बुद्धि के देवता हैं। कुंडली में धन भाव के स्वामी बुध को ही माना गया है। बुध अगर अच्छा है तो आपको धन की कभी कमी नहीं रहेगा। अपनी क्रिएटिविटी से आप हमेशा धन की कमी से दूर रह सकते हैं। कल बुधवार है और आप ये उपाय कल से भी शुरू कर सकते हैं।

ज्योतिष में बुध के शुभफल के लिए कई ऐसे उपाय दिए हैं जिनको करने से पैसों की बचत और इंकम के नए रास्ते खुलते हैं। ये उपाय किसी भी बुधवार से शुरू करके 41 दिन तक लगातार करना होते हैं। ज्योतिषाचार्य पं. आर.एस. पाठक के मुताबिक ये उपाय पूरे मन से बिना नियम को तोड़े करने से गणपति की कृपा मिलती है। गणेश बुद्धि के देवता हैं जो हमें क्रिएटिव माइंड देते हैं। इस उपाय से आय के कई रास्ते खुलने लगते हैं।

ऐसे करें उपाय

- सबसे पहले बुधवार को सुबह जल्दी जागकर स्नान आदि कर लें। साफ कपड़े पहन लें। ये कपड़े ऐसे हों जो आप सिर्फ पूजा के लिए ही पहने। अन्य कामों के लिए नहीं।

- फिर घर के मंदिर की सफाई करें। संभव हो तो मंदिर वाली जगह पर गंगाजल मिले पानी से पोछा लगा दें या गंगाजल छिड़क दें।

- साफ मिट्टी लाकर इससे गणपति की प्रतिमा बनाएं।

- प्रतिमा बनाकर उसे घर के मंदिर में लाल कपड़ा बिछाकर स्थापित कर दें।

- पूरे विधान के साथ गणपति का कुंकुम, चावल, अबीर, गुलाल आदि से पूजन करें।

- भगवान को रेशमी वस्त्र और यज्ञोपवित अर्पित करें।

- पूजन करते समय मन ही मन ऊँ गं गणपतये नमः का जाप करते रहें।

- पूजन के बाद गणेश को मोदक और दुर्वा का भोग लगाएं।

- फिर इसके बाद गणपति अर्थवशीर्ष का पाठ करें।

- ये विधि 41 दिन तक लगातार करें फिर 42वें दिन गणपति के पूजन के बाद उन्हें नदी में विसर्जित करें।

- घर आकर कम से कम एक ब्राह्मण को भोजन कराकर दान दें।

- उसके बाद रोज गणपति अर्थवशीर्ष के पाठ का नियम बना लें।

इस प्रयोग से आपकी आय के नए सोर्स शुरू होने में मदद मिलेगी, साथ ही घर में पैसों की बचत भी बढ़ेगी।