--Advertisement--

रविवार को चतुर्थी तिथि पर करें श्रीगणेश की पूजा, परिवार में रहेगी सुख-समद्धि और पूरी हो सकती है हर इच्छा

1 जुलाई, रविवार को आषाढ़ मास के कृष्ण पक्ष चतुर्थी तिथि है, इस दिन भगवान श्रीगणेश की पूजा की जाती है।

Danik Bhaskar | Jul 12, 2018, 01:33 PM IST

रिलिजन डेस्क। प्रत्येक महीने की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को भगवान श्रीगणेश के लिए व्रत किया जाता है। इसे गणेश चतुर्थी व्रत कहते हैं। इस बार ये व्रत 1 जुलाई, रविवार को है। गणेश चतुर्थी का व्रत इस विधि से करें-

व्रत व पूजन विधि
- रविवार की सुबह स्नान आदि करने के बाद घर में किसी स्वच्छ स्थान पर भगवान श्रीगणेश की प्रतिमा स्थापित करें और चतुर्थी व्रत का संकल्प लें।
- इसके बाद श्रीगणेश की पूजा करें। गणेशजी की मूर्ति पर सिंदूर चढ़ाएं। गणेश मंत्र (ऊं गं गणपतयै नम:) बोलते हुए 21 दूर्वा दल चढ़ाएं।
- श्रीगणेश को गुड़ या बूंदी के 21 लड्डुओं का भोग लगाएं। इनमें से 5 लड्डू मूर्ति के पास रख दें और 5 ब्राह्मण को दान कर दें बाकी प्रसाद के रूप में बांट दें।
- ब्राह्मणों को भोजन कराएं और उन्हें दक्षिणा प्रदान करने के बाद शाम के समय स्वयं भोजन करें। संभव हो तो उपवास करें।
- इस व्रत का आस्था और श्रद्धा से पालन करने पर भगवान श्रीगणेश की कृपा से मनोरथ पूरे होते हैं और जीवन में निरंतर सफलता प्राप्त होती है।


उपाय
चतुर्थी तिथि पर स्फटिक की गणेश प्रतिमा अपने घर पर लाकर स्थापित करें। रोज इसकी पूजा करने से घर के सभी दोष दूर हो सकते हैं।

Related Stories