--Advertisement--

अमेरिका: भारतीय मूल के अंशदीप ट्रम्प की सुरक्षा में शामिल होने वाले पहले सिख बने

अंशदीप को सुरक्षा में शामिल करने से पहले लुक्स बदलने के लिए कहा गया था

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 05:10 PM IST

  • अंशदीप का परिवार मूल रूप से उत्तर प्रदेश के कानपुर का निवासी था
  • 1984 सिख दंगों के बाद उनका परिवार लुधियाना चला गया

वॉशिंगटन. भारत के लुधियाना में जन्मे अंशदीप सिंह भाटिया अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की सुरक्षा में शामिल होने वाले पहले सिख युवक बन गए हैं। 28 साल के अंशदीप को पिछले हफ्ते ही कड़ी ट्रेनिंग के बाद राष्ट्रपति की सिक्युरिटी का हिस्सा बनाया गया।

राष्ट्रपति की सुरक्षा में नौकरी पाने के लिए अंशदीप को अधिकारियों ने वेशभूषा बदलने के लिए कहा। उन्होंने इसके खिलाफ कोर्ट में अपील की। कोर्ट ने अंशदीप के पक्ष में फैसला सुनाया।

कानपुर का मूल निवासी था परिवार: अंशदीप का परिवार मूलत: कानपुर का रहने वाला है। यहां उनका परिवार बर्रा स्थित केडीए कॉलोनी में रहता था, लेकिन 1984 के सिख दंगों के बाद उन्हें कानपुर से लुधियाना जाना पड़ा। दंगों में अंशदीप के चाचा और एक रिश्तेदार की मौत हो गई थी, जबकि उनके पिता को तीन गोलियां लगी थीं। इस हादसे के बाद बैंक में नौकरी कर रहे अंशदीप के दादाजी अमरीक सिंह भाटिया ने लुधियाना ट्रांसफर ले लिया। इसके बाद 2000 में अंशदीप अपने परिवार के साथ अमेरिका चले गए। तब उनकी उम्र 10 साल थी।