विज्ञापन

अशुभ योगों में होगा चंद्रग्रहण, आ सकती है प्राकृतिक आपदा, 4 राशि वाले रहें संभलकर

dainikbhaskar.com

Jun 09, 2018, 05:00 PM IST

खग्रास चंद्रग्रहण का ग्रह गोचर के अनुसार सभी राशियों पर अलग-अलग प्रभाव दिखाई देगा।

Lunar eclipse 2018, eclipse effect, ominous lunar eclipse, lunar eclipse on July 27
  • comment

रिलिजन डेस्क। अगले महीने आषाढ़ मास की पूर्णिमा (27-28 जुलाई की रात) को खग्रास चंद्रग्रहण होगा। यह पूरे देश में देखा जा सकेगा। ज्योतिषियों के अनुसार, खग्रास चंद्रग्रहण का ग्रह गोचर के अनुसार सभी राशियों पर अलग-अलग प्रभाव दिखाई देगा। चंद्रग्रहण के दिन विभिन्न अशुभ योगों के कारण प्राकृतिक आपदा से नुकसान भी हो सकता है।
उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. अमर डिब्बावाला के अनुसार, गोचर में मकर राशि के केतु के साथ चंद्रमा का प्रभाव और राहु से उसका समसप्तक दृष्टि संबंध होना साथ ही शनि व मंगल का वक्री होना अपने आप में विशेष घटना है। ग्रहण के ही दिन इस प्रकार के अशुभ योगों का बनना ज्योतिषीय दृष्टिकोण से अच्छा नहीं माना जाता है। इस ग्रहण के कारण प्राकृतिक आपदाओं की आशंका बढ़ेगी। सामुद्रिक तूफान की भी संभावना रहेगी।


ग्रहण का प्रभाव इन राशियों पर

पं. अमर डिब्बावाला के अनुसार, खग्रास चंद्रग्रहण उत्तरा आषाढ़ व श्रवण नक्षत्र तथा मकर राशि में होगा। इसलिए जिनका जन्म नक्षत्र उत्तरा आषाढ़ एवं श्रवण नक्षत्र व जन्म राशि व लग्न मकर है, उनके लिए विशेष अशुभ है। इसलिए ऐसे लोगों को चंद्रग्रहण के दौरान संभलकर रहना होगा। ये ग्रहण मेष, सिंह, वृश्चिक, मीन राशि वालों के लिए ठीक रहेगा। वृष, कर्क, कन्या, धनु राशि के लिए मध्यम फल देने वाला और मिथुन, तुला, मकर व कुंभ राशि वालों के लिए अशुभ रहेगा।


ग्रहण की खास बातें...
1. ग्रहण पर्व काल- 3.55 घंटे

(सूतक - अाषाढ़ पूर्णिमा बुधवार 27 जुलाई को ग्रहण प्रारंभ होने (स्पर्श) के तीन प्रहर(9 घंटा) पहले प्रारंभ होगा।)
2. ग्रहण स्पर्श- रात 11.54 बजे

3. ग्रहण सम्मिलन- रात 1 बजे

4. मध्य- रात 1.52 बजे

5. उन्मूलन- रात 2.54 बजे

6. मोक्ष- तड़के 3.55 बजे

X
Lunar eclipse 2018, eclipse effect, ominous lunar eclipse, lunar eclipse on July 27
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन