--Advertisement--

आयकर विभाग ने दो लाख से ज्यादा रकम कैश में लेने के 1705 मामले पकड़े, 45 करोड़ की पेनल्टी वसूलेगा

हार्ले डेविडसन, लुइस वेटन समेत कई लग्जरी ब्रांड नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं।

Danik Bhaskar | Jun 26, 2018, 07:30 PM IST
  • नियमों के मुताबिक जितनी रकम कैश ली गई उनती ही पेनल्टी लगाई जा सकती है
  • आयकर के नियमों का उल्लंघन करने पर कई डिफॉल्टर को नोटिस भेजे जा चुके हैं

नई दिल्ली. हार्ले डेविडसन और लुइस वेटन समेत कई लग्जरी ब्रांड नियमों के खिलाफ लेन-देन की वजह से आयकर विभाग के रडार पर हैं। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की जांच में पता चला है कि ये कंपनियां 2 लाख से ज्यादा की रकम कैश में ले रही हैं जो नियमों का उल्लंघन है। आयकर विभाग के गुप्तचर और आपराधिक जांच निदेशालय ने जनवरी से मार्च के दौरान ऐसे मामलों की जांच के लिए मुहिम चलाई थी।

देशभर में 1705 मामले पकड़े गए
आयकर विभाग के सर्वे में ये मामले सामने आए हैं। सर्वे में शामिल एक अधिकारी के मुताबिक देशभर में लेन-देन के 1705 मामले पाए गए जिनमें आयकर के नियमों का उल्लंघन किया गया। इनमें हार्ले डेविडसन का गुवाहाटी शोरूम और पुणे में वेंकीज ब्रांड शामिल हैं। मुंबई, दिल्ली, चेन्नई, लखनऊ और इंदौर में लुइस वेटन और गुक्की के डीलर समेत 5-स्टार हॉस्पिटल भी 2 लाख से ज्यादा कैश लेने वालों में पाए गए।

आयकर विभाग 45.60 करोड़ की पेनल्टी लगाएगा
एक अधिकारी के मुताबिक आयकर की धारा 271डीए के तहत नियम तोड़ने वालों से ये वसूली की जाएगी। इसके मुताबिक निमयों की अनदेखी कर भुगतान लेने पर उतनी ही राशि की पेनल्टी लगाने का प्रावधान है जितना कैश लिया गया है। इस तरह के मामलों में कई डिफॉल्टर को नोटिस भेजे गए हैं तलाशी भी ली गई है।