गांधीजी के हेल्थ को लेकर पहली बार जानकारी आई सामने : इस एक ही बीमारी का तीन बार हुए शिकार, लंदन में रहने के दौरान इस रोग से हो गए थे पीड़ित, सिर्फ इतना रह गया था वजन

गांधीजी ने हेल्दी रहने के लिए इन 3 चीजों को हमेशा दी प्रायोरिटी, ये उपाय आज भी हैं कारगर

dainikbhaskar.com

Mar 26, 2019, 01:49 PM IST
Mahatma gandhi health records are published

हेल्थ डेस्क। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हेल्थ फाइल पहली बार सामने आई है। इसमें गांधी जी की हेल्थ को लेकर कई खुलासे हुए हैं। इंडियन जर्नल ऑफ मेडिकल रिसर्च (IJMR) के स्पेशल एडिशन में इससे जुड़े फैक्ट्स पहली बार प्रकाशित किए गए हैं। जानिए उनकी हेल्थ से जुड़े फैक्ट्स।

कौन सी बीमारियों से पीड़ित थे
- गांधीजी हाई ब्लड प्रेशर का शिकार थे। 1939 में उनका वजन 46.7Kg और हाइट 5 फिट 5 इंच दर्ज की गई थी।
- वह तीन बार 1925,1936 और 1944 में मलेरिया का शिकार हुए।
- उन्होंने 1919 में पाइल्स और 1924 में अपेन्डिसाइटिस का ट्रीटमेंट लिया।
- लंदन में रहने के दौरान वह प्लूरिसी के रोग से भी पीड़ित रहे।

रोजाना कितना चलते थे
- रिपोर्ट के मुताबिक, गांधी जी रोजाना 18 किमी पैदल चला करते थे। 1913 से लेकर 1948 तक की कैंपेनिंग के दौरान वे करीब 79 हजार किमी पैदल चले।
- यह दो बार धरती को नापने के बराबर है।
- गांधीजी खुद को नेचुरल तरीकों से स्वस्थ रखते थे। नेचुरोपैथी में उनका यकीन था।
- उनका मानना था कि एक स्वस्थ्य दिमाग से स्वस्थ शरीर बनता है।
- वे संतुलित आहार, प्राकृतिक इलाज और फिजिकल फिटनेस की महत्ता को समझते थे।

हार्ट में कोई समस्या नहीं रही
- इतने तनाव के बाद भी गांधीजी के हार्ट में कभी कोई समस्या नहीं आई। 1937 में उनकी ईसीजी जांच से यह तथ्य स्पष्ट होता है।
- उनका मानना था कि प्रकृति के विरोध में जाने से जो गड़बड़ी हुई है, वह प्रकृति के साथ रहने से ही ठीक होगी।
- वे यह भी कहते थे कि जो मानसिक परिश्रम करते हैं, उनके लिए भी शारीरिक परिश्रम करना बेहद जरूरी है।

X
Mahatma gandhi health records are published
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना