--Advertisement--

शुक्रवार को है शिव पूजा का खास मौका, सुरक्षित भविष्य के लिए करें उपाय

इस बार 22 जून, शुक्रवार को महेश नवमी है। इस दिन भगवान शिव को प्रसन्न करने लिए कुछ खास उपाय कर सकते हैं।

Danik Bhaskar | Jun 20, 2018, 04:23 PM IST

रिलिजन डेस्क। 22 जून, शुक्रवार को महेश नवमी है। मान्यता के अनुसार, इस दिन माहेश्वरी समाज की उत्पत्ति हुई थी। भगवान शिव का ही एक नाम महेश है, उन्हीं महेश से माहेश्वरी बने। हालांकि ये दिन माहेश्वरी समाज बड़े धूमधाम से मनाता है लेकिन आम लोग भी भगवान शिव की कृपा पाने के लिए इस दिन कुछ उपाय कर सकते हैं।

उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार, इस दिन भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए व्रत व पूजा करने का भी विधान है। साथ ही अगर इस दिन कुछ खास उपाय किए जाएं तो भविष्य सुरक्षित हो सकता है। जो परेशानियां आने वाली होती हैं वो टल जाती हैं। पूजा विधि इस प्रकार है-


इस विधि से करें भगवान शिव की पूजा

- सुबह स्नान आदि करने के बाद भगवान शिव की मूर्ति या चित्र एक लाल कपड़े पर स्थापित करें।

- हाथ में जल, फूल और चावल लेकर इस मंत्र से संकल्प लें-
मम शिवप्रसाद प्राप्ति कामनया महेशनवमी-निमित्तं शिवपूजनं करिष्ये।

- इसके बाद शिवजी के सामने गाय के शुद्ध घी का दीपक जलाएं और पूजा के अंत तक जलता रहे।

- पूजा गंध, फूल और बिल्वपत्र से करें और फलों का भोग लगाएं और इस प्रकार भगवान शिव की स्तुति करें-

जय नाथ कृपासिन्धो जय भक्तार्तिभंजन।
जय दुस्तरसंसार-सागरोत्तारणप्रभो॥
प्रसीद मे महाभाग संसारात्र्तस्यखिद्यत:।
सर्वपापक्षयंकृत्वारक्ष मां परमेश्वर॥


- इसके बाद शिवजी की आरती करें और प्रसाद को भक्तों में बांट दें।

- शिवजी की मूर्ति या तस्वीर को नदी में विसर्जित कर दें। इस प्रकार महेश नवमी पर भगवान शिव का पूजा करने से व्यक्ति की हर मनोकामना पूरी हो सकती है।

करें ये उपाय

1. शिवलिंग का अभिषेक केसर मिले दूध से करें। अगर ये उपाय चांदी के लोटे या गिलास से करेंगे तो चंद्रमा से संबंधित दोष दूर हो सकते हैं।

2. शिवलिंग पर काले तिल चढ़ाने से पितृ दोष का अशुभ असर कम हो सकता है।

3. पानी में गुड़ डालकर शिवलिंग का अभिषेक करने से आने वाले संकट टल सकते हैं।

Related Stories