--Advertisement--

27 जून से मकर राशि में मंगल की बदलेगी चाल, 27 अगस्त तक कौन सी राशियां बनेंगी भाग्यशाली

मकर राशि का स्वामी शनि है और शनि की राशि में मंगल वक्री हो रहा है। इसका असर सभी 12 राशियों पर होने वाला है।

Danik Bhaskar | Jun 25, 2018, 06:02 PM IST

रिलिजन डेस्क। बुधवार, 27 जून से मंगल मकर राशि में चाल बदलकर वक्री हो रहा है। मंगल 27 अगस्त तक वक्री रहेगा। मकर राशि में केतु पहले से ही है। केतु हमेशा वक्री रहता है। इस कारण मकर राशि में दो वक्री ग्रह रहेंगे। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार जानिए मंगल के वक्री होने से सभी 12 राशियों पर कैसा असर होने वाला है...

मेष- मंगल राशि स्वामी है और दशम होकर वक्री हो रहा है। यह योग विशेषकर जमीन से लाभ दिलाने वाला होगा। वाहन सुख मिलेगा और किसी बड़े काम में सफलता दिलवाएगा।

वृषभ- वक्री मंगल नवम रहेगा। आपकी राशि के लिए सामान्य रहेगा। आपके लिए लाभ-हानि की संभावनाएं बराबर रहेंगे। लापरवाही से बचें। रिश्तेदारों में विवाद हो सकता है और इस समय जमीन से संबंधित सौदे टालने का प्रयास करें।

मिथुन- राशि से अष्टम मंगल वक्री होने से जमीन, कर्ज, दुकान, मकान के मामलों में कठिनाइयां आ सकती हैं। न्यायालयीन मामलों में भी पक्ष कमजोर हो सकता है। विवाद टालने का प्रयास करें।

कर्क- राशि पर उच्च के वक्री मंगल की सप्तम दृष्टि से आपका प्रभाव बढ़ेगा। सभी कार्यों में सफलता मिलेगी। कोर्ट-कचहरी और अन्य विवादित मामलों में लाभ होगा। नए कार्य मिलेंगे।

सिंह- षष्ठम मंगल वक्री होने से स्वास्थ्य में लाभ होगा और अटके कार्यों में गति आएगी। नवीन योजनाएं भी बनेंगी। विवादों का अंत होगा और प्रसन्नतादायक समाचार प्राप्त होंगे।

कन्या- पंचम मंगल वक्री हो रहा है, इस कारण शुभ समाचार मिलेंगे। समय सफलता दिलाने वाला होगा। जमीन से फायदा होगा और कारोबार में तरक्की के अवसर मिलेंगे। कुंवारे लोगों को शादी के प्रस्ताव मिल सकते हैं।

तुला- चतुर्थ मंगल वक्री होगा। इस कारण आपके लिए थोड़ी परेशानियां बढ़ सकती हैं। योजनाएं असफल हो सकती हैं। कर्ज के कारण परेशानियां हो सकती हैं। विवादित मामलों में पीछे हटना पड़ सकता है। न्यायालयीन कामों में सावधानी रखे।

वृश्चिक- आपकी राशि के लिए तृतीय मंगल वक्री होने से कोई परेशानी आने की संभावना नहीं है। योजनाओं मे सफलता मिलेगी। लक्ष्य प्राप्ति होंगे। नए व्यवसाय के ऑफर मिल सकते हैं।

धनु- आपके लिए द्वितीय मंगल वक्री हो रहा है। इस कारण परेशानियां का अंत होगा। बहुत दिनों से अटके हुए काम पूरे हो सकते हैं। आय का आधार मजबूत होगा और पूर्व में छोड़ा गया कोई काम सफल हो सकता है।

मकर- आपकी राशि में वक्री मंगल और केतु साथ हैं। वक्री मंगल से कोई नुकसान नहीं होगा। सभी ओर से प्रसन्नता और शुभ समाचार मिलेंगे। सम्मान प्राप्त होगा और प्रभाव में वृद्धि होगी।

कुंभ- द्वादश मंगल वक्री होने से इस समय में आपको संभलकर रहना चाहिए। सावधानी से काम करें। शांति और धैर्य से समय व्यतीत करें। विरोधी पक्ष हावी होने का प्रयास करेगा। गुप्त योजनाओं को ठंडे दिमाग से हल करें।

मीन- आपके लिए एकादश मंगल वक्री शुभ रहेगा। नई जमीन, मकान खरीदने का मन बनेगा और इस काम में सफलता भी मिल सकती है। सरकार से कार्यों में मदद मिलेगी। कारोबार में वृद्धि होगी और लाभ में भी इजाफा होगा।

Related Stories