--Advertisement--

रोज सुबह बोलेंगे गणेशजी के ये 12 नाम तो मिलेगा पूरी पूजा का फल, घर में बढ़ सकती है खुशहाली

शिव पुराण के अनुसार मंत्रों का जाप करने से देवी-देवता जल्दी प्रसन्न होते हैं।

Dainik Bhaskar

Apr 09, 2018, 05:00 PM IST
गणेश के मंत्र, mantra jaap, ganesh mantra, jyotish ke upay, dhan labh ke upay

यूटिलिटी डेस्क. भगवान गणेश प्रथम पूज्य देव हैं। शिवपुराण के अनुसार भगवान शिव ने गणेशजी को प्रथम पूज्य देव होने का वरदान दिया है। इसी कारण किसी भी काम की शुरुआत में गणेशजी की विशेष पूजा की जाती है। गीताप्रेस गोरखपुर द्वारा प्रकाशित श्रीगणेश अंक पूरी तरह गणेशजी को ही समर्पित है। इस ग्रंथ में गणपतिजी के जीवन की सभी घटनाओं और उनसे जुड़े उपायों का वर्णन किया गया है। श्रीगणेश अंक में ऐसे 12 नामों के बारे में बताया गया है, जिनका जाप रोज सुबह करने से गणेशजी की कृपा मिलती है और घर में सुख-समृद्धि बढ़ती है। ये 12 नाम गणेशजी के हैं और इनका जाप करने मात्र से सभी दुखों का नाश हो सकता है। जानिए 12 नामों का ये मंत्र...

प्रथमं वक्रतुण्ड च एकदन्तं द्वितीयकम्, तृतीयं कृष्णपिड्गाक्षं गजवक्त्रं चतुर्थकम्।।

लम्बोदरं पंचमं च षष्ठं विकटमेव च, सप्तमं विघ्नराजेन्द्रं धूम्रवर्ण तथाष्टमम्।।

नवमं भालचन्द्रं च दशमं तु विनायकम्, एकादशं गणपतिं द्वादर्श तु गजाननम्।।

द्वादशैतानि नामानि त्रिसंध्यं यः पठेन्नरः, न च विध्नभयं तस्य सर्वसिद्धिकरं परम्।।

उज्जैन के इंद्रश्वेर महादेव मंदिर के पुजारी पं. सुनील नागर के अनुसार इस मंत्र का जाप रोज सुबह करना चाहिए। इसके जाप से उतना ही पुण्य मिलता है, जितना गणेशजी की सामान्य पूजा से मिलता है।

अगर आप इस मंत्र का जाप नहीं कर सकते हैं तो मंत्र में बताए गए गणेशजी के 12 नामों का जाप कर सकते हैं। पहला नाम है वक्रतुण्ड, दूसरा एकदंत, तीसरा कृष्णपिड्गाक्ष, चौथा गजवक्त्र, पांचवां लंबोदर, छठा विकट, सातवां विघ्नराजेंद्र, आठवां धूमवर्ण, नौवां भालचंद्र, दसवां विनायक, ग्यारहवां गणपति और बारहवां नाम गजाजन है।

जो व्यक्ति रोज सुबह भगवान गणेश के इन बारह नामों का जाप करता है, उसके सभी विघ्न भगवान गणेश दूर कर सकते हैं।

कैसे करें इन मंत्रों का जाप

रोज सुबह जल्दी उठें और अपनी दोनों हथेलियां देखें। इसके बाद स्नान करें और साफ वस्त्र धारण करें। घर के मंदिर में गणेशजी की पूजा करें और 12 नाम वाले मंत्र का जाप कम से कम 11 बार करें या इन नामों का जाप 108 बार करें।

ये भी पढ़ें-

इन 2 राशियों पर मेहरबान रहते हैं शनिदेव, जानिए 5-5 खास बातें

राशिफल- 18 अप्रैल से शनि होगा वक्री, नाम अक्षर से जानें किन राशियों का होगा भाग्योदय

X
गणेश के मंत्र, mantra jaap, ganesh mantra, jyotish ke upay, dhan labh ke upay
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..