लाल फूल से की गई माता ब्रह्मचारिणी की पूजा, आज चन्द्रघंटा की होगी पूजा, मंत्रोच्चार से गंुजायमान रहा दूधपुरा मंदिर परिसर

Samstipur News - शहर से सटे दूधपुरा गांव स्थित चैती दुर्गा मंदिर में नवरात्र के दूसरे दिन मां के ब्रह्मचारिणी स्वरूप की पूजा हुई।...

Mar 27, 2020, 08:20 AM IST

शहर से सटे दूधपुरा गांव स्थित चैती दुर्गा मंदिर में नवरात्र के दूसरे दिन मां के ब्रह्मचारिणी स्वरूप की पूजा हुई। इस दौरान मां को लाल पुष्प अर्पित कर प्रसाद चढ़ाया गया। वहीं माता का मंदिर परिसर नवार्ण मन्त्र के जप और दुर्गा सप्तशती के पाठ से चारों ओर का वातावरण भक्तिमय हो गया है। सुबह और शाम में माता की श्रद्धापूर्वक आरती कर मां से विश्व का कल्याण करने की प्रार्थना की जा रही है। यहां नौ दिनों तक वैदिक विधि-विधान के साथ मां के सभी नौ स्वरूपों की उपासना की जाएगी। बताया गया कि शुक्रवार को नवरात्र के तीसरे दिन मां के तीसरे स्वरूप चन्द्रघंटा की उपासना होगी। इस दौरान पंडितों की ओर से प्रतिदिन दुर्गासप्तशती का निरंतर पाठ किया जा रहा है। कोराेना को लेकर पूजा के दौरान सोशल डिस्टेंस का पालन किया जा रहा है। पूजा के दौरान हरिशंकर ठाकुर, नवीन कुमार सिंह, संजय कुमार बबलू, रणवीर ठाकुर, कृष्ण कुमार तिवारी, विमल तिवारी, कुंदन तिवारी, अमित तिवारी, सुजीत तिवारी, नीरज तिवारी, सुरेश तिवारी, सौरभ कुमार आदि मौजूद थे।

नहीं लगेगा मेला, नहीं सजेंगी दुकानें

बताया गया कि कोरोना वायरस को लेकर सतर्कता बरतते हुए नवरात्र में झूला व दुकानें नहीं लगाई जाएंगी। वहीं खिलौना व मिठाई आदि की दुकानों पर भी रोक लगाई गई है। प्रसाद के लिए बतासा, चुंदरी व नारियल आदि की एक-दो दुकानें लग सकती हैं। वहीं रोसड़ा शहर के गांधी चौक, बाबा स्थान, बीबीएन उच्च विद्यालय स्थित दुर्गा मंदिर , डगवर टोली , गोला घाट तथा ग्रामीण क्षेत्र के सहियार डीह , सहियार बुर्ज स्थित रेलवे गुमटी, फत्तेपुर आदि पूजा स्थलों पर माता दुर्गा समेत सभी देवी देवताओं की पूजा-आराधना की गई।

माता की आराधना में भी सोशल डिस्टेंस का हो रहा पालन

दूधपुरा स्थित चैती दुर्गा मंदिर में पूजा व जप करते पंडित।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना