विज्ञापन

हर रविवार करें भगवान भैरव की पूजा और बोलें 1 मंत्र, मिल सकता है हर सुख

dainikbhaskar.com

Jun 02, 2018, 05:00 PM IST

भैरव महादेव का रौद्र रूप हैं। इनकी पूजा से सभी तरह की समस्याओं का समाधान हो सकता है।

Measures of Bhairav, measures of astrology, how to please Bhairav
  • comment

रिलिजन डेस्क। धर्म ग्रंथों में भगवान शिव के अनेक अवतार बताए गए हैं। भैरव भी उन्हीं में से एक है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. प्रफुल्ल भट्ट के अनुसार, भैरव महादेव का रौद्र रूप हैं। इनकी पूजा से सभी तरह की समस्याओं का समाधान हो सकता है। आज हम आपको भैरव को प्रसन्न करने के कुछ उपाय बता रहे हैं, इन्हें करने से आपकी हर परेशानी दूर हो सकती है। ये उपाय इस प्रकार हैं...

1. हर रविवार की सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि करने के बाद कुश (एक प्रकार की घास) के आसन पर बैठ जाएं। सामने भगवान कालभैरव की तस्वीर स्थापित करें व पंचोपचार से विधिवत पूजा करें। इसके बाद रूद्राक्ष की माला से नीचे लिखे मंत्र की कम से कम पांच माला जाप करें तथा भैरव महाराज से सुख-संपत्ति के लिए प्रार्थना करें।

मंत्र- 'ऊं हं षं नं गं कं सं खं महाकाल भैरवाय नम:'

2. रोज सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि करने के बाद भैरवजी के मंदिर जाएं और सरसों के तेल का दीपक जलाएं। रोज ये उपाय करने से आपकी हर समस्या दूर हो सकती है।

3. हर महीने की दोनों पक्षों की त्रयोदशी तिथि को भैरव मंदिर में इमरती और मदिरा का भोग लगाएं।

4. हर शनिवार काले कुत्ते को इमरती खिलाएं और कच्चा दूध पिलाएं।

5. कोई काम लंबे समय से रुका है तो रोज सुबह बटुक भैरव स्तोत्र का पाठ करें।

6. रोज भैरव मंदिर की आठ परिक्रमा करने से पापों का नाश होता है।

7. शनिवार की रात 12 बजे भगवान कालभैरव को दही में गुड़ मिलाकर भोग लगाएं।

X
Measures of Bhairav, measures of astrology, how to please Bhairav
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन