--Advertisement--

गुप्त नवरात्र के हर दिन मां दुर्गा को लगाएं अलग-अलग चीजों का भोग, पूरी हो सकती है हर मनोकामना

गुप्त नवरात्र में हर दिन देवी को एक अलग चीज का भोग लगाने से आपकी हर इच्छा पूरी हो सकती है।

Danik Bhaskar | Jul 13, 2018, 11:04 AM IST
आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की प्रत आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की प्रत

रिलिजन डेस्क. आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से नवमी तिथि तक गुप्त नवरात्र का पर्व मनाया जाता है। इस बार ये उत्सव 14 जुलाई, शनिवार से 21 जुलाई, शनिवार तक मनाया जाएगा। 14 जुलाई को दो तिथि (प्रतिपदा और द्वितिया) एक साथ होने से इस बार गुप्त नवरात्र 8 दिन की रहेगी। देवी पुराण के अनुसार, नवरात्र में पहले दिन से लेकर अंतिम दिन तक देवी को ये विशेष भोग अर्पित करने तथा बाद में इसे गरीबों को दान करने से व्यक्ति की हर मनोकामनाएं पूरी हो सकती है। गुप्त नवरात्र में किस तिथि पर देवी मां को किस चीज का भोग लगाएं, इसकी जानकारी इस प्रकार है…
1. प्रतिपदा तिथि (14 जुलाई, शनिवार) पर माता को घी का भोग लगाएं तथा दान करें। इससे बीमारियों से छुटकारा मिल सकता है।
2. द्वितीया तिथि (14 जुलाई, शनिवार) को माता को शक्कर का भोग लगाएं। ये उपाय करने से उम्र बढ़ती है।
3. तृतीया तिथि (15 जुलाई, रविवार) को माता को दूध चढ़ाएं। ऐसा करने से सभी प्रकार के दु:खों से मुक्ति मिलती है।
4. चतुर्थी तिथि (16 जुलाई, सोमवार) को माता को मालपुए का भोग लगाएं। इससे समस्याओं का अंत होता है।
5. पंचमी तिथि (17 जुलाई, मंगलवार) को माता को केले का भोग लगाएं। इससे परिवार में सुख-शांति बनी रहेगी।
6. षष्ठी तिथि (18 जुलाई, बुधवार) पर माता को शहद का भोग लगाएं। इससे धन प्राप्ति के योग बनते हैं।
7. सप्तमी तिथि (19 जुलाई, गुरुवार) को माता को गुड़ की वस्तुओं का भोग लगाएं तथा दान भी करें। इससे गरीबी दूर होती है।
8. अष्टमी तिथि (20 जुलाई, शुक्रवार) को माता दुर्गा को नारियल का भोग लगाएं। इससे सुख-समृद्धि मिलती है।
9. नवमी तिथि (21 जुलाई, शनिवार) पर माता को विभिन्न प्रकार के अनाजों का भोग लगाएं। इससे जीवन का हर सुख मिलता है।