Hastrekha

--Advertisement--

गरुड़ और भविष्य पुराण के अनुसार माथे पर कितनी रेखाएं हैं, ये बात भी तय करती है आपका भविष्य

Metoposcopy And Samudrik Shastra: माथे का आकार, रंग और ललाट इंसान की उम्र के बारे में बताते हैं।

Dainik Bhaskar

Jul 17, 2018, 11:32 AM IST
metoposcopy and samudrik shastra about forehead lines reading

सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार जिस तरह से हाथों की रेखाओं का महत्व होता है ठीक वैसे ही महत्व माथे की रेखाओं का भी होता है। माथे का आकार, रंग और ललाट इंसान की उम्र के बारे में बताते हैं। भविष्य और गरुड़ पुराण में भी बताया गया है कि माथे की रेखाएं आपके जीवन की स्थितियों के बारें में बताती हैं। सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार मस्तक यानी माथे के भी कई प्रकार होते हैं। जिन्हें उन्नत, मध्यम और निम्न कहा जाता है। इन माथों पर बनने वाली रेखाएं उस व्यक्ति की उम्र के साथ ये भी बताती हैं कि जीवन में सुख है या दुख।

कैसे जानें माथे की रेखाएं क्या कहती हैं -

- जिस इंसान के माथे पर दो पूरी रेखाएं दिखती हैं उस की उम 60 तक हो सकती है। इसके अलावा इस तरह के लोग जीवन में बहुत नाम कमाते हैं। पैसों की कमी इन लोगों को नहीं रहती है। यदि माथे की ये दो रेखाएं कटी हुई होती हैं तो इंसान पूरे जीवनभर परेशान रहता है।

- जिन लोगों के माथे पर तीन रेखाएं पड़ती हैं, वे जीवन में सुखी रहते हैं। एैसे लोग 70 साल से अधिक जीते हैं। क्योंकि तीन रेखाएं शुभ मानी जाती हैं।

- माथे पर यदि पांच रेखांए पड़ती हैं तो यह अति उत्तम मानी जाती हैं। हर प्रकार के सुख को भोग कर ये लोग जीवन जीते हैं। इस तरह की रेखाओं वाले लोग सौ साल तक भी जीते हैं।

- यदि माथे पर दो रेखाएं पड़ती हों और वे आपस में एक दूसरे को छूती हो ऐसे लोग भी साठ साल से ज्यादा जीते हैं।

- माथे पर यदि किसी तरह की कोई रेखा नहीं पड़ती हो या माथा सपाट हो तो ऐसे लोग तीस से चालीस वर्ष तक ही जीते हैं और जीवनभर कष्ट रहता है।

- पांच से अधिक रेखाएं यदि माथे पर पड़ती हों तो इस तरह के लोग भी अल्पआयु यानी कम उम्र वाले होते हैं।

X
metoposcopy and samudrik shastra about forehead lines reading
Click to listen..