पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विधायक बोले- अध्यक्ष जी सैलरी बढ़वाइए, जो शादीशुदा हैं, उनका खर्च नहीं चल पा रहा और जो कुंवारे हैं, उनके लिए रिश्ते नहीं आ रहे

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

नई दिल्ली. दिल्ली के विधायकों ने शुक्रवार को विस अध्यक्ष रामनिवास गोयल से कहा, अध्यक्ष जी, शादी हो गई है 12 हजार रुपये सैलरी में घर नहीं चलता। जो कुंवारे हैं वो शादीशुदा की हालत देखकर शादी की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे हैं। जिनकी शादी नहीं हुई, उनके रिश्ते इसलिए नहीं आ रहे कि इतनी कम सैलरी में खर्च कैसे पूरे करेंगे। मुद्दा करोल बाग से विधायक विशेष रवि ने उठाया और कहा कि अध्यक्ष जी दो महीने पहले ही घर में बच्चा आया है, उसका भी खर्च बढ़ गया है। वेतन बढ़ाने के प्रस्ताव को लेकर जल्दी फैसला करवा दीजिए।

 

ओपी शर्मा बोले... कुंवारे विधायक जल्दी शादी करें और हमें भी बुलाएं
 

- भाजपा विधायक ओपी शर्मा, नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने भी सत्तापक्ष के विधायक की मांग पर सहमति जताई।

- ओपी शर्मा ने कहा कि गृहमंत्री से हम साथ मिलने चलेंगे। जिनकी शादी नहीं हो पा रही है, तनख्वाह बढ़े तो वो शादी करें और हमें भी बुलाएं।

- वित्त विभाग संभाल रहे उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कई बार गृहमंत्री व वित्तमंत्री के सामने यह बात रखी है।

- गृहमंत्री से मिलेंगे तो हल होगा। आप चलिए, वो जरूर मिलेंगे। ओपी शर्मा ने कहा मुख्यमंत्री के साथ जरूर जाएंगे।

 

12 हजार सैलरी है, कोई मानता नहीं, एक जज ने तो सैलरी स्लिप मांग ली
 

- विधायक विशेष रवि ने कहा- अध्यक्ष जी हम 12 हजार रुपये सैलरी बताते हैं तो कोई विश्वास नहीं करता।

- मनोज कुमार और दिनेश मोहनिया ने पिछले दिनों कोर्ट में जज को वेतन बताया तो उन्होंने झूठ मानकर सैलरी स्लिप मांग ली।

- रवि ने कहा, अगस्त, 2016 में विस ने बिल पास करके भेजा। तब से 17 राज्यों में विधायकों की सैलरी बढ़ाई गई।

- सांसदों को भी इस बार से बढ़ा वेतन मिलेगा, दिल्ली के विधायकों से भेदभाव क्यों? ऐसे हम ईमानदारी से अपना काम कैसे कर पाएंगे।

 

ये मांगें भी कीं

 

- कार्यकाल में एक बार एक लाख रुपये फर्नीचर के लिए, 60 हजार रुपये ऑफिस एक्यूपमेंट के लिए। 
- कंप्यूटर, लैपटॉप या प्रिंटर खरीदने के लिए हर कार्यकाल में एक लाख रुपये मिलता है जिसे वेतन भत्ते का हिस्सा बनाएं।
- ऑफिस का मासिक किराया 25 हजार रुपये। यात्रा भत्ता मासिक 30 हजार रुपये क्योंकि टैक्सी लेंगे तो भी दैनिक 1000 रुपये खर्च होगा। 

 

 

 

खबरें और भी हैं...