पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विधानसभा चुनाव के बहिष्कार को लेकर नक्सलियों ने लगाए बैनर, फेंके पर्चे

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नक्सलियों की ओर से बीजापुर में हाईवे पर लगाए गए बैनर। - Dainik Bhaskar
नक्सलियों की ओर से बीजापुर में हाईवे पर लगाए गए बैनर।
  • बीजापुर में नेशनल हाईवे पर फेंके पर्चे, लोगों से विधानसभा चुनाव में नहीं शामिल होने को कहा
  • राज्य की भाजपा सरकार और आरएसएस पर भी साधा निशाना, मुठभेड़ को बताया जनसंहार

बीजापुर. छत्तीसगढ़ में इस साल के आखिरी में विधानसभा चुनाव होने हैं। जैसे-जैसे चुनाव की तिथि नजदीक आ रही है, राजनीतिक दलों के साथ ही प्रशासन भी तैयारी में जुट गया है। ऐसे में प्रदेश के घाेर नक्सल प्रभावित क्षेत्र बीजापुर में शुक्रवार सुबह नक्सलियों ने बैनर लगाकर विधानसभा चुनाव के बहिष्कार का लोगों से अाह्वान किया है। 

1) पेगड़ापल्ली-गोरला के बीच फेंके गए हैं पर्चे

जानकारी के मुताबिक, नक्सलियों ने पेंगड़ापल्ली-गोरला के बीच नेशनल हाईवे पर बैनर लगाकर चुनाव का बहिष्कार करने को कहा है। साथ ही भारी मात्रा में पर्चे भी फेंके हैं। जिसमें राज्य की भाजपा सरकार और आरएसएस पर निशाना साधा गया है। वहीं मुठभेड़ में मारे गए नक्सलियों को जनसंहार बताया है। 

नक्सलियों की ओर से लगाए गए बैनर में लोकतंत्र को झूठ और चुनाव को धोखा बताया गया है। साथ ही संसदीय लोकतंत्र को उखाड़ फेंकने की बात भी कही गई है। पूरे बैनर में सबसे ज्यादा नक्सलियों के निशाने पर भाजपा नेता, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री रमन सिंह ही हैं। 

नक्सलियों ने तिम्मेनार में 19 जुलाई को हुई मुठभेड़ को फर्जी बताया है। इस मुठभेड़ में आठ नक्सली मारे गए थे। नक्सलियों ने दलित, गोरक्षा, मॉबलिचिंग, घर वापसी, लव जिहाद जैसे मुद्दे भी उठाए हैं। नक्सलियों के बैनर और पर्चे मिलने से राहगीरों में दहशत का माहौल है। मद्देड़ पुलिस ने नक्सलियों के बैनर और पर्चों को जब्त कर लिया है। इलाके में सर्चिंग अभियान चलाया जा रहा है। 

खबरें और भी हैं...