Monsoon Destinations : यहां लें हवा और बारिश की बूंदों का खुशनुमा अहसास / Monsoon Destinations : यहां लें हवा और बारिश की बूंदों का खुशनुमा अहसास

Dainikbhaskar.com

Jun 12, 2018, 01:22 PM IST

तिब्बतियन खुशबू और कांगड़ा की हवा इस हिल स्टेशन को अन्य हिल स्टेशनों से अलग कर देती है।

मैकलॉडगंज धर्मशाला से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहां देखने के लिए दलाईलामा का आवास है, जो विशेष आकर्षण है। मैकलॉडगंज धर्मशाला से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहां देखने के लिए दलाईलामा का आवास है, जो विशेष आकर्षण है।

लाइफस्टाइल डेस्क. जरा सोचें कि ऐसे हिल स्टेशन पर बारिश के मौसम में कितना आनंद आएगा, जहां बारिश की बूंदों से खुशबू समेटती हवा तेजी से आपके शरीर को छूती हुई चली जाए और आप ताजगी से भर जाएं। कांगड़ा वैली में स्थित धौलाधार रेंज के इस हिल स्टेशन तक पहुंचना भी बहुत आसान है। इसी कारण इस मौसम में यहां पर्यटकों की अच्छी-खासी संख्या रहती है। ठहरने के लिए भी हिमाचल टूरिज्म की ओर से अच्छी व्यवस्था है।

मैकलॉडगंज, हिमाचल प्रदेश
मैकलॉडगंज धर्मशाला से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहां देखने के लिए दलाईलामा का आवास है, जो विशेष आकर्षण है। सेंट जॉन चर्च, डल लेक आदि प्रमुख हैं, जहां बारिश थमने के दौरान जा सकते हैं। यहां घूमने का बेहतरीन मौसम जुलाई से सितम्बर के बीच यानी बरसात का मौसम ही है। यहां का नजदीकी रेलवे स्टेशन कांगड़ा है। यह सड़क मार्ग से भी काफी अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है और नियमित बस सेवाएं भी हैं। ठहरने के लिए हिमाचल टूरिज्म की ओर से बजट होटल की व्यवस्था है, जहां के कमरों से यहां की वादियों को देखते ही रह जाएंगे। मैक्लॉडगंज, धर्मशाला पहुंचने के लिए हिमाचल परिवहन की वॉल्वो बस चलती है। ट्रेन से धर्मशाला जाना चाहते हैं तो नजदीकी रेलवे स्टेशन पठानकोट है, जो धर्मशाला से 85 किलोमीटर दूर स्थित है। यहां हर बजट के होटल उपलब्ध हैं। अगर आप थोड़ी बचत करना चाहते हैं तो होम स्टे भी ट्राई कर सकते हैं। ऐसा करने से आपको यहां के लोकल लोगों से रूबरू होने और उनके कल्चर को समझने का अच्छा मौका भी मिलेगा।

मालशेज घाट, महाराष्ट्र
मालशेज घाट, पुणे से 130 किलोमीटर दूर थाणे और अहमदनगर बॉर्डर के बीच है। परिवार के साथ छुट्टियों के दिनों में घूमने और रहने के लिए यह सब से आदर्श स्थान है। वैसे इस जगह को घूमने के लिए सब से उपयुक्त समय मानसून का रहता है। यदि आप यहां जा रहे हैं तो यहां आपके रहने के लिए अच्छे होटल और लाॅज की उपयुक्त सुविधा है।

लाजवाब शहर कूर्ग, कर्नाटक
भारत के कर्नाटक राज्य में स्थित इस छोटे से हिल स्टेशन में अपनी छुट्टियों का मजा लेने के लिए हर साल कई टूरिस्ट आते हैं। यहां आप कॉफी के बगान, पहाड़ियों और वन्य जीवन का लुत्फ उटा सकते हैं। इसके अलावा कूर्ग शहर का अब्बी झरना भी पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है।

मैक्लॉडगंज, धर्मशाला पहुंचने के लिए हिमाचल परिवहन की वॉल्वो बस चलती है। मैक्लॉडगंज, धर्मशाला पहुंचने के लिए हिमाचल परिवहन की वॉल्वो बस चलती है।
मालशेज घाट, पुणे से 130 किलोमीटर दूर थाणे और अहमदनगर बॉर्डर के बीच है। परिवार के साथ छुट्टियों के दिनों में घूमने और रहने के लिए यह सब से आदर्श स्थान है। मालशेज घाट, पुणे से 130 किलोमीटर दूर थाणे और अहमदनगर बॉर्डर के बीच है। परिवार के साथ छुट्टियों के दिनों में घूमने और रहने के लिए यह सब से आदर्श स्थान है।
कूर्ग शहर का अब्बी झरना भी पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है। कूर्ग शहर का अब्बी झरना भी पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है।
X
मैकलॉडगंज धर्मशाला से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहां देखने के लिए दलाईलामा का आवास है, जो विशेष आकर्षण है।मैकलॉडगंज धर्मशाला से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहां देखने के लिए दलाईलामा का आवास है, जो विशेष आकर्षण है।
मैक्लॉडगंज, धर्मशाला पहुंचने के लिए हिमाचल परिवहन की वॉल्वो बस चलती है।मैक्लॉडगंज, धर्मशाला पहुंचने के लिए हिमाचल परिवहन की वॉल्वो बस चलती है।
मालशेज घाट, पुणे से 130 किलोमीटर दूर थाणे और अहमदनगर बॉर्डर के बीच है। परिवार के साथ छुट्टियों के दिनों में घूमने और रहने के लिए यह सब से आदर्श स्थान है।मालशेज घाट, पुणे से 130 किलोमीटर दूर थाणे और अहमदनगर बॉर्डर के बीच है। परिवार के साथ छुट्टियों के दिनों में घूमने और रहने के लिए यह सब से आदर्श स्थान है।
कूर्ग शहर का अब्बी झरना भी पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है।कूर्ग शहर का अब्बी झरना भी पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है।
COMMENT