Home | Business | Moodys cuts India 2018 growth forecast to 7.3% from 7.5%

मूडीज ने 2018 में भारत की जीडीपी ग्रोथ का अनुमान 7.5% से घटाकर 7.3% किया

2019 के लिए मूडीज ने 7.5% ग्रोथ का अनुमान बरकरार रखा

DainikBhaskar.com| Last Modified - May 31, 2018, 11:24 AM IST

1 of
Moodys cuts India 2018 growth forecast to 7.3% from 7.5%
मूडीज ने ग्लोबल मैक्रो आउटलुक 2018-19 के आंकड़े अपडेट किए- फाइल

  • सरकार जीडीपी ग्रोथ के आंकड़े आज जारी करेगी
  • एसबीआई ने चौथी तिमाही में 7.5% ग्रोथ का अनुमान जताया

नई दिल्ली. रेटिंग एजेंसी मूडीज ने 2018 के लिए भारत का जीडीपी ग्रोथ अनुमान 7.5% से घटाकर 7.3% कर दिया है। मूडीज ने ग्रोथ अनुमान घटाने की वजह तेल कीमतों को बताया है। हालांकि 2019 के लिए ग्रोथ रेट 7.5% बरकरार रखी है। रेटिंग एजेंसी ने ग्लोबल मैक्रो आउटलुक 2018-19 के आंकड़ों में ये अपडेट किया है। हालांकि जीडीपी के लिए अनुमान घटाने के बाद भी मूडीज का अनुमान एसबीआई और फिक्की से ज्यादा है।

 

महंगे तेल का इकोनॉमी पर असर होगा: मूडीज
- मूडीज का मानना है कि भारत की इकोनॉमी पटरी पर लौट रही है, लेकिन तेल कीमतों में बढ़ोतरी और कमजोर वित्तीय हालातों की वजह से ग्रोथ धीमी होगी। 

 

ग्रामीण अर्थव्यव्था से फायदे की उम्मीद
- मूडीज ने कहा है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य में इजाफे और सामान्य मॉनसून से ग्रामीण इलाकों में खपत बढ़ेगी जिससे विकास दर को फायदे की उम्मीद है। निजी निवेश में भी धीरे-धीरे सुधार देखने को मिलेगा। रेटिंग एजेंसी ने उम्मीद जताई है कि इन्सॉल्वेंसी और बैंकरप्सी कोड से बैंकों और कॉरपोरेट्स की हालत में सुधार होगा। 

 

ग्रोथ पर जीएसटी का असर होगा
- मूडीज के मुताबिक गुड्स एंड सर्विस टैक्स की वजह से आने वाले महीनों में ग्रोथ पर नेगेटिव असर हो सकता है। साथ ही कहा है कि एक साल के अंदर ये सभी पहलू सुलझ जाएंगे। 

 

7.5% रहेगी तिमाही जीडीपी ग्रोथ: एसबीआई
- स्टेट बैंक ऑफ इंडिया का अनुमान है कि 2017-18 की चौथी तिमाही में जीडीपी ग्रोथ दर 7.5% वहीं पूरे साल के लिए 6.7% रह सकती है। एसबीआई की रिपोर्ट ईकोरैप में ये अनुमान जताया गया है। रिपोर्ट के ऑथर और एसबीआई के ग्रुप चीफ इकोनॉमिक एडवाइजर सौम्या कांति घोष के मुताबिक, कॉर्पोरेट ग्रॉस वैल्यू एडेड (जीवीए) के अच्छे प्रदर्शन से मैन्युफैक्चरिंग ग्रोथ 9% रहने की उम्मीद है। साथ ही कहा है कि कृषि क्षेत्र की ग्रोथ केंद्रीय सांख्यिकी विभाग (सीएसओ) के अनुमान से बेहतर रहेगी। एसबीआई ने सर्विस सेक्टर की ग्रोथ 8% से ऊपर रहने की उम्मीद जताई है।

 

मार्च तिमाही में 7.1% ग्रोथ की उम्मीद: फिक्की सर्वे
उद्योग संगठन फिक्की के सर्वे में 2017-18 की चौथी तिमाही में ग्रोथ रेट 7.1% और पूरे वित्त वर्ष के लिए 6.6% रहने का अनुमान जताया है। फिक्की के इस सर्वे में 2018-19 के लिए आर्थिक विकास दर 6.9% से 7.5% के बीच रहने की बात कही गई है। 

 

अक्टूबर-दिसंबर में 7.2% रही जीडीपी ग्रोथ
केंद्रीय सांख्यिकी विभाग आज जनवरी-मार्च तिमाही और पूरे वित्त वर्ष के लिए जीडीपी के आंकड़े जारी करेगा। 2017-18 के अक्टूबर-दिसंबर क्वार्टर में जीडीपी दर 7.2% रही थी।   

 

Moodys cuts India 2018 growth forecast to 7.3% from 7.5%
पेट्रोल-डीजल के रेट रिकॉर्ड ऊंचाई पर हैं।- फाइल
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now