मां का प्यार अहम, लेकिन पिता के स्नेह काे भी नहीं कर सकते अनदेखा

News - नई दिल्ली| पिता काे जानने अाैर उससे प्यार करने के लिए भी बच्चे काे पर्याप्त समय मिलना चाहिए। अलग हाे चुके दंपति के...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 07:21 AM IST
New Delhi News - mother39s love is important but even father39s affection cannot be ignored
नई दिल्ली| पिता काे जानने अाैर उससे प्यार करने के लिए भी बच्चे काे पर्याप्त समय मिलना चाहिए। अलग हाे चुके दंपति के बीच बच्चाें की कस्टडी के झगड़े पर फैसला देते हुए सुप्रीम काेर्ट ने यह टिप्पणी की है। इलाहाबाद हाई काेर्ट के फैसले काे संशाेधित करते हुए काेर्ट ने कहा कि बच्चे के लिए मां का प्यार काफी अहम है लेकिन कस्टडी अाैर मुलाकात के अधिकार से जुड़े मामलाें में पिता के स्नेह काे भी अनदेखा नहीं किया जा सकता। जस्टिस दीपक गुप्ता की अध्यक्षता वाली बेंच ने कहा, “बच्चे काे अपनी मां अाैर पिता दाेनाें का स्नेह पाने का अधिकार है।’शेष|पेज 6 पर

X
New Delhi News - mother39s love is important but even father39s affection cannot be ignored
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना