--Advertisement--

सिर्फ मेहनत से ही नहीं मिलती सफलता, अपना टैलेंट भी पहचानें

मेहनत के साथ-साथ हमें अपने टैलेंट के बारे में भी पता होना चाहिए।

Danik Bhaskar | May 14, 2018, 05:48 PM IST

रिलिजन डेस्क। इसमे कोई शक नहीं है कि मेहनत सफलता की पूंजी है। बिना मेहनत किए हम कुछ नहीं पा सकते, लेकिन सिर्फ मेहनत ही हमारा भविष्य तय नहीं करती। मेहनत के साथ-साथ हमें अपने टैलेंट के बारे में भी पता होना चाहिए।
क्योंकि बिना सही दिशा के हमारी मेहनत भी किसी काम की नहीं रह जाती और कई बार हमें नाकामयाबी का सामना करना पड़ता है। इसलिए अपनी क्षमताओं के अनुरूप अपनी मेहनत को एक नई दिशा दें और दूसरों की देखा देखी न करके अपने टैलंट और इच्छा के हिसाब से काम करें।

जब रामानुजन ने पहचाना अपना टैलेंट
- भारत के सबसे प्रसिद्ध गणितज्ञ रामानुजन बचपन से ही मेधावी स्टूडेंट थे। मैथ्स में उनकी प्रतिभा के बारे मे सभी जानते थे। रामानुजन जब युवा हुए थे तो उन्हें चेन्नई में क्लर्क की नौकरी मिल गई।


- मैथ्स में प्रतिभा और रुचि होने के बावजूद उन्होंने क्लर्क की नौकरी कर ली क्योंकि उन्हें लगता था कि मैथ्स में रिसर्च करने की बजाय वह बतौर क्लर्क अच्छा काम कर सकते हैं। धीरे-धीरे थोड़ा समय निकलता गया।

- लेकिन बहुत जल्दी उन्हें उस नौकरी से ऊब होने लगी, रामानुजन को लगने लगा कि उनका भविष्य गणित में ही है और उसके बाद उन्होंने क्लर्क की पोस्ट से इस्तीफा दे दिया।

- इस्तीफा देने के बाद रामानुजन ने गणित में कई विशेष शोध किए और अपनी प्रतिभा का लोहा दुनिया भर में मनवाया। रामानुजन ने थोड़ी देर से ही सही, लेकिन अपने टैलेंट को पहचाना और उसके अनुसार फैसला लिया।