• Hindi News
  • Mp
  • Murena
  • Morena News mp news 1500 workers from jaipur karauli came to sabalgarh on foot caught 175 villagers returning from pune after filling them in the truck like cattle

जयपुर-करौली से 1500 मजदूर पैदल-पैदल सबलगढ़ आए, ट्रक में मवेशियों की तरह भरकर पुणे से लौट रहे 175 ग्रामीण पकड़े

Murena News - चिंता...5 हजार मजदूरों की मुरैना वापसी, सिर्फ 50% की स्क्रीनिंग, क्योंकि अधिकांश बिना सूचना दिए घरों में छिप...

Mar 27, 2020, 08:00 AM IST
Morena News - mp news 1500 workers from jaipur karauli came to sabalgarh on foot caught 175 villagers returning from pune after filling them in the truck like cattle

चिंता...5 हजार मजदूरों की मुरैना वापसी, सिर्फ 50% की स्क्रीनिंग, क्योंकि अधिकांश बिना सूचना दिए घरों में छिप गए

देशभर में 21 दिन का लॉकडाउन होते ही राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र, चेन्नई, दिल्ली प्रांतों में मजदूरी व अन्य काम करने वाले मजदूरों की थोक में घर वापसी जारी है। गुरुवार को राजस्थान के जयपुर व करौली जिलों से 1500 से अधिक मजदूर चंबल नदी के अटार घाट पुल को पार करते हुए पैदल-पैदल सबलगढ़ पहुंचे। इन सभी का पुल की सीमा पर तैनात स्वास्थ्य विभाग की टीम ने स्क्रीनिंग की और उन्हें 14 दिन तक घर में परिवार से पूरी तरह अलग-थलग रहने की सलाह दी। इसी प्रकार पुणे में मजदूरी के लिए 175 से अधिक ग्रामीण ट्रक क्रमांक आरजे-11-जीबी-4212 में मवेशियों की तरह भरकर चोरी-छिपे पहाड़गढ़ लौट रहे थे। शाम 6 बजे के करीब पुलिस ने अज्ञात कॉल्स पर इस ट्रक को जंगल के रास्ते में पकड़ लिया। इनमें कुछ महिलाएं व बच्चे भी शामिल थे। इन सभी ग्रामीणों को पहाड़गढ़ स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां इनके स्वास्थ्य की जांच की गई।

वहीं मुरैना जिले के तकरीबन 25 हजार से अधिक लोग गुजरात, राजस्थान, हैदराबाद, महाराष्ट्र सहित देशभर के तमाम प्रांतों में रहकर नौकरी, मजदूरी, चाट-पकौड़ी के ठेले, मार्वल घिसाई जैसे काम करते हैं। 21 दिन के लॉकडाउन के बाद अभी तक जिलेभर में तकरीबन 5 से 7 हजार मजदूर मुरैना लौट चुके हैं। लेकिन इनमें से सिर्फ 50 प्रतिशत यानि 3 हजार लोगों की स्क्रीनिंग हो सकी है। अधिकांश मजदूर बिना हेल्थ चेकअप कराए ही अपने घरों में पहुंच गए जो चिंता का विषय है।

ट्रक में लकड़ी के फट्‌टे लगाकर मवेशियों की तरह भरे थे मजदूर


ट्रक से उतरते ग्रामीण, जो अंदर मवेशियों की तरह भरे थे।

पुणे से जिस ट्रक में भरकर पहाड़गढ़, जौरा व कैलारस के अलग-अलग गांवों के 175 ग्रामीण पहाड़गढ़ आ रहे थे। उस ट्रक को लकड़ी का फट्‌टा लगाकर दो हिस्सों में बांट दिया गया था। ट्रक के अंदर ग्रामीण इस तरह भरे हुए थे जैसे बूचड़खाने में काटने के लिए मवेशियों को ले जाया जाता है। पहाड़गढ़ पुलिस ने जब इस ट्रक को खुलवाया तो ड्राइवर की केबिन में ही 15 से 16 लोग भरे हुए थे। जब ट्रक के पिछले हिस्से को खुलवाया तो उसमें बैठे लोग ठीक से सांस तक नहीं ले पा रहे थे।

X
Morena News - mp news 1500 workers from jaipur karauli came to sabalgarh on foot caught 175 villagers returning from pune after filling them in the truck like cattle

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना